राजनीति

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी की हार्ट अटैक से निधन, आज शाम 5 बजे एकटीवी चैनल की डिबेट में हुए थें शामिल

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का बुधवार शाम दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। राजीव त्यागी शाम पांच बजे तक टी वी चैनल की डिबेट में भी बैठे थे। तबियत अचानक खराब होने पर उन्हें गाजियाबाद के अस्पताल में भी भर्ती करवाया गया था।

21 साल पहले काले झंडे के साथ आए थे सुर्खियों में 

19 मार्च 1999 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार थी तभी एक आम सभा हुई थी। इस सभा में राजीव त्यागी ने अटल बिहारी वाजपेयी को काला झंडा दिखाया था। उसके बाद उन्हें जेल भी जाना पड़ा था। राजीव त्यागी राजनीतिक विरोध प्रदर्शन में पांच बार जेल की यात्रा भी कर चुके हैं। उस समय राजीव त्याग काले झंडे के साथ सुर्खियों में आए थे।


कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन हो गया है। वह एक टीवी डिबेट पर थे। इसी दौरान अचानक उनकी तबीयत खराब हुई। आनन-फानन में उन्हें गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन डॉक्टर उन्हे बचा नहीं सके और उनकी मृत्यु हाे गई।सूत्रों के अनुसार उनकी मृत्यु हार्ट अटैक से हुई।

सोशल मीडिया के जाने माने चेहरे थें राजीव

त्यागी कांग्रेस के तेज-तर्रार प्रवक्ता थे, अकसर उनकी भिड़ंत टीवी एंकरों से भी हुआ करती थी। राजीव त्यागी टीवी का जाना माना चेहरा बन चुके थे। इसके अलावा सोशल मीडिया पर भी उन्होंने एक अलग पहचान बनाई थी। सोशल मीडिया पर वह अपने ट्वीट्स के लिए छाए रहते थे। उन्होंने आज शाम के 3 बजकर 41 मिनट पर ट्वीट कर कहा था कि आज शाम 5 बजे एक चैनल के डिबेट में शामिल रहूंगा। इस डिबेट में त्यागी शामिल भी हुए।इसके अलावा त्यागी ने कल अपने ट्वीट में लिखा था, ‘कोरोना से डरो और भाजपा से लड़ो।’

कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर जताया शोक

पार्टी की ओर से एक ट्वीट में उनके निधन की सूचना देते हुए संवेदना प्रकट की गई है।

ट्वीट में लिखा गया है, “हम श्री राजीव त्यागी के आकस्मिक निधन से बहुत दुखी हैं। एक निष्ठावान कांग्रेसी और एक सच्चे देशभक्त,इस दुख की घड़ी में हमारी संवेदनाएं उनके परिवार और दोस्तों के साथ हैं।”

प्रियंका गांधी ने त्यागी के निधन को अपूर्णीय क्षति बताया

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट कर राजीव त्यागी की असामयिक मृत्यु को अपूर्णीय क्षति बताया है।उन्होंने लिखा, ”भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी जी की असामयिक मृत्यु मेरे लिए एक व्यक्तिगत दुःख है। हम सबके लिए अपूर्णीय क्षति है। राजीव जी विचारधारा समर्पित योद्धा थे। समस्त यूपी कांग्रेस की ओर से परिजनों को हृदय से संवेदना। ईश्वर उनके परिवार को दुख सहने की शक्ति दें।”

संबित पात्रा ने कहा विश्वास नहीं हो रहा—

भाजपा नेता संबित पात्रा ने ट्वीट कर कहा विश्वास नहीं हो रहा है कांग्रेस के प्रवक्ता मेरे मित्र राजीव त्यागी हमारे साथ नहीं है। आज 5 बजे हम दोनो ने साथ में डिबेट भी किया था। जीवन बहुत ही अनिश्चित है …अभी भी शब्द नहीं मिल रहें हे गोविंद राजीव को अपने श्री चरणो में स्थान देना।

राहुल गांधी ने कहा आज कांग्रेस का बब्बर शेर चला गया

पार्टी के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ‘कांग्रेस ने आज अपना एक बब्‍बर शेर खो दिया।’ उन्‍होंने लिखा कि ‘राजीव त्यागी के कांग्रेस प्रेम व संघर्ष की प्रेरणा हमेशा याद रहेंगे।’

2006 में कांग्रेस में हुए थे शामिल

राजीव त्यागी का जन्म 20 जून 1970 को हुआ था। उनकी पढ़ाई-लिखाई भी गाजियाबाद में हुई थी और उन्होंने एमबीए की डिग्री हासिल की थी। लोकदल से अपने राजनीतिक पारी की शुरुआत करने वाले 50 वर्षीय त्यागी 2006 में पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के नेतृत्व में कांग्रेस में शामिल हुए। तब से वह विभिन्न भूमिकाओं में थे। राजीव त्यागी ने उत्तर प्रदेश में लंबे समय तक पार्टी के लिए काम किया था। पिछले साल अक्टूबर में कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने उन्हें उत्तर प्रदेश में अपना मीडिया प्रभारी नियुक्त किया था। मीडिया रिपोट्स के मुताबिक उन्हें महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में मुंबई में मीडिया को संभालने का जिम्मा सौंपा गया था। बताया जाता है कि वे प्रियंका गांधी के करीबी थे।

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button