Uncategorized

फ़ेसबुक पर विवादित पोस्ट से बेंगलुरु में हुई हिंसा,कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के आवास पर तोड़फोड़ 

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के आवास पर तोड़फोड़ की गई है। कुछ अज्ञात उपद्रवियों ने उनके घर की तोड़फोड़ की और आग लगा दी। बताया जा रहा है कि, ये पूरा विवाद विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे के कथित तौर पर किए गए एक सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर हुआ है।

bangluru, shri niwas, facebook, 144,


हिंसा में 2 लोगों की मौत 60 पुलिसकर्मी घायल

सोशल मीडिया पर अपने पैगंबर के कथित अपमान को लेकर विरोध-प्रदर्शन के दौरान गुस्साई भीड़ ने बेंगलुरू के डीजे हल्ली, केजी हल्ली दोनों पुलिस थानों पर बोतल और पत्थर फेंके। माहौल को काबू में करने के लिए पुलिस ने भीड़ पर लाठीचार्ज किया, आंसू गैस के गोले छोड़ और फायरिंग की। पुलिस कमिश्नर कमलकांत ने बताया कि हिंसा में दो लोग पुलिस की फायरिंग में मारे गए हैं, एक व्यक्ति घायल हुआ है, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। इस हिंसा के दौरान तकरीबन 60 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। घायल होने वालों में अडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस भी घायल हुए हैं।

 

बेंगलुरु में धारा144 लागू

हिंसा के चलते बेंगलुरू में धारा 144 को लागू कर दिया गया है, जबकि डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में आरोपी नवीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। बेंगलुरू के ज्वाइंट कमिश्नर संदीप पाटिल ने बताया कि हिंसा में 300 लोग घायल हुए हैं। हमने 110 लोगों को गिरफ्तार किया है।

 

भांजे ने पोस्ट लिखने से किया इनकार

विधायक के भांजे ने किसी भी विवादित पोस्ट को फेसबुक लिखने से इनकार किया है। उसका कहना है कि उसका फेसबुक एकाउंट हैक किया गया और जो भी आपत्तिजनक बातें लिखी गईं, उससे उसका कोई संबंध नहीं है। इलाके में तनाव को देखते हुए वहां पुलिस बल तैनात कर दिया गया है और सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। वहीं कांग्रेस विधायक ने बताया कि उन्होंने पुलिस से आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले अपने भांजे को गिरफ्तार करने को कहा है।

 

कांग्रेस गृहमंत्री ने कार्रवाई के दिये आदेश

कांग्रेस विधायक के आवास पर हुए हंगामे को लेकर कर्नाटक के गृह मंत्री बसवराज बोम्‍मई ने कहा कि उपद्रवियों पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जांच होनी चाहिए। किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने और हालात को सामान्य करने के लिए अतिरिक्त बलों की तैनाती के आदेश दे दिए हैं। सुरक्षा के लिहाज से विधायक मूर्ति को पुलिस स्टेशन में रखा गया है। उनके घर के बाहर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।वहीं विधायक के घर के बाहर बल तैनात किए जाने के बाद लोगों ने डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया।

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: