china india the india rise news LAC


भारत-चीन विवाद के चलते भारत की तरफ से डिजिटल जवाब देने के बाद चीन का रवैया बदल गया है। चीन की सेना ने भारत-चीन सीमा पर करीब 45 साल बाद गोली चलाई। यह एक हवाई फायरिंग थी, लेकिन इसे चीन की बौखलाहट कहें या सोची समझी रणनीति का एक हिस्सा, क्योंकि चीन के एक बयान में कहा गया है कि फायरिंग भारत की तरह हुई है। वहीं भारतीय सेना ने चीन के बयान को झूठा बताया है। भारतीय सेना ने कहा कि फायरिंग चीन की तरह से हुई है। सेना के बयान के मुताबिक 7 सितंबर को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) हमारी फॉरवर्ड पोजीशन के नजदीक आने की कोशिश कर रही थी। जब भारतीय सेना ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो चीन के सैनिकों ने फायरिंग की उकसाने के बावजूद भारतीय सेना ने जिम्मेदाराना व्यवहार किया। बता दें कि 1960 में चीन के तत्कालीन सर्वोच्च नेता Mao Zedong ने PLA के सामने एक लक्ष्य रखा था। जिसे पूरा करने का ख्वाब अब पीपुल्स लिबरेशन आर्मी देख रही है।

 

45 साल पहले चली थी गोली

दोनों ही देशों के बीच 45 साल पहले गोली चली थी। 20 अक्टूबर 1975 को अरुणाचल प्रदेश के तुलुंगला में चीन ने असम राइफल की पेट्रोलिंग पार्टी पर धोखे से एम्बुश लगाकर हमला किया था। जिसमें भारत के चार जवान शहीद हो गए थे।

 

चीन भारतीय अर्थव्यवस्था को चोट पहुंचाना चाहता है

LAC पर भारत – चीन सेना के बीच झड़प लंबे समय से चल रही है। इतने सालों बाद चीन ने हवाई फायरिंग की है। चीन लागातार सीमा पर तनाव पैदा कर रहा है जिससे भारतीय राजनीति में उथल-पुथल मचे। वहीं Covid-19 के चलते चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में भारत की जीडीपी 23 प्रतिशत से ज्यादा सिकुड़ गई है। ऐसे में सीमा पर तनाव बढ़ाकर भारत के सैन्य खर्च करवाने में जुटा है। जिससे इकोनॉमी पर बुरा असर पड़े। दूसरी तरह चीन नेपाल की सेना को भारत के खिलाफ भड़काने की पूरी कोशिश में लगा हुआ है।

 

ड्रैगन के बौखलाहट की तीन और वजह

1- ब्लैक टॉप और हेलमेट टॉप पर भारतीय सेना के मजबूत पोजीशन लेने के बाद चीन की पोस्ट भारतीय फायरिंग रेंज में है।

 

2- भारतीय सेना ऊंचाई पर है, जबकि चीन की पोस्ट नीचे है। चीन की पोजिशन और ट्रूप को भारतीय इलाकों से देखा जा सकता है। और उस पर निगरानी रखी जा सकती है।

 

3- हमारी पोजिशन से चीन के भारतीय इलाकों में एंट्री पॉइंट्स बंद हो गए हैं। जिन इलाकों से LAC को लेकर घपला कर चीन भारतीय सीमा पर पैट्रोलिंग करता था, वहां अब भारतीय सेना का दबदबा है।

 

दोनों देश के बीच सहमति बनी थी लेकिन भारत पालन नहीं कर रहा – चीन

चीनी सेना के वेस्टर्न थिएटर कमांडर ने आरोप लगाया है कि दोनों देशों के बीच सहमति बनी थी, लेकिन भारत उसका पालन नहीं कर रहा है। ग्लोबल टाइम्स का कहना है कि भारत की ओर से तनाव बढ़ने की आशंका है, क्योंकि उनकी तरह से भड़काने वाली कार्रवाई हो रही है। भारतीय सेना लगातार LAC क्रॉस कर रही है।

Follow Us