कैदियों के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। प्रशासन ने अब जेल के बीमार कैदियों के साथ ही नए आने वाले कैदियों के लिए अलग बैरक बना ली है। जेल में इस समय 1600 से अधिक कैदियों की संख्या हैं। कुछ दिन पहले एक कैदी कोरोना संक्रमित मिला था। हालांकि वह दो दिन पहले ही जेल में आया था।

यह भी पढ़ें : यूपी : दो दिनों के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन, सुबह गुरूवार 7 बजे तक रहेगी बंदी  

अब एक और कैदी कोरोना संक्रमित निकल गया है। ये कैदी काफी समय से जेल में था। दोनों की सुशीला तिवाड़ी अस्पताल में भर्ती कर उपचार कराया जा रहा है। वहीं कैदियों में कोरोना संक्रमण मिलने के बाद जेल प्रशासन सतर्क हो गया है।

तीसरी बार जांच में कोरोना पॉजिटिव निकला कैदी

लंबे समय से जेल में बंद कैदी तीसरी बार आरटीपीसीआर टेस्ट कराने पर कोरोना पॉजिटिव निकला है। जेलर संजीव ह्यांकी ने बताया कि खटीमा का रहने वाला कैदी लंबे समय से बीमार चल रहा था। 19 अप्रैल की उसका कोरोना टेस्ट कराया गया, जिसमें जांच की रिपोर्ट निगेटिव आई।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: हर जिले में प्लाज्मा बैंक बनाएगी उत्तराखंड पुलिस 

वहीं कोरोना के लक्षण लगातार दिखने पर 24 अप्रैल को दोबारा कोरोना टेस्ट कराया गया। इसकी जांच भी निगेटिव आई। इसके बाद भी लगातार लक्षण दिखने पर और कैदी के बीमार मिलने पर 29 अप्रैल को तीसरी बार कोरोना जांच कराई गई। इसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद कैदी को सुशीला तिवाड़ी अस्पताल में भर्ती कर उपचार कराया जा रहा है।

Follow Us