भावुक होकर राहुल गांधी ने कहा, “घटनाक्रम से आहत हूं, आखिर बेटा हूं”   


the india rise news, congress cwc

सोनिया गांधी 6 महीने तक अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी, 6 माह के भीतर नया अध्यक्ष चुना जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोनिया गांधी पर काम का बोझ कम करने के लिए कुछ पार्टी के नेता उनके साथ जोड़े जाएंगे।


 

पिछले 7 घंटे से चली कांग्रेस वर्किंग कमेटी (Congress Working Committee ) की बैठक अब खत्म हुई है। जानकारी के मुताबिक बैठक का फैसला है कि सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी, 6 माह के भीतर नया अध्यक्ष चुना जाएगा।

 

कांग्रेस लीडरशिप को लेकर दो खेमे में बटते दिखाई दे रहे हैं। 15 दिन पहले से आ रही चिट्ठियों को लेकर सोनिया गांधी ने रविवार शाम बयान दिया कि अब कांग्रेस नेता आपका नया अध्यक्ष चुन लें। जबकि CWC की बैठक सोमवार को होनी थी। बैठक से पहले अंदाजा तो लगाया जा चुका था की मुद्दा गंभीर है, लेकिन किसी ने भी यह नहीं सोचा था कि बैठक की शुरुआत पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिबल के बीच तनाव देखने को मिलेगा। हालांकि कटाक्ष भरे ट्वीट को कपिल सिब्बल ने एक घंटे के भीतर डिलीट कर दिया वो भी यह कहकर की राहुल गांधी ने व्यक्तिगत तौर पर कहा कि यह सब उनके लिए नहीं कहा है। क्या कहा था राहुल गांधी ने  ?  दरअसल बैठक की शुरुआत में राहुल गांधी ने कहा था कि यह सब भाजपा की मिलीभगत से कर रहे हैं।

 

भावुक हुए राहुल गांधी कहा, आखिर मैं बेटा हूं। 

7 घंटे की बैठक के बाद यही निर्णय लिया गया कि सोनिया गांधी 6 महीने तक अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी, 6 माह के भीतर नया अध्यक्ष चुना जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोनिया गांधी पर काम का बोझ कम करने के लिए कुछ पार्टी के नेता उनके साथ जोड़े जाएंगे। बैठक में CWC ने एक साल तक का समय देने के बात कही थी, लेकिन राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने 6 महीने के अंदर नया अध्यक्ष चुनने की प्रकिया शुरू करने के बात कही है। वहीं राहुल गांधी ने एक भाषण भी दिया जिसमें उन्होंने भावुक होकर कहा कि ” घटनाक्रम ( सोनिया गांधी की बीमारी के वक्त सीनियर नेताओं द्वारा चिट्ठी लिखने और जवाब के लिए रिमाइंडर भेजने) से मैं आहत हुआ, आखिर मैं बेटा हूं।

Follow Us

%d bloggers like this: