कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर भारत के अंदर फैलने से सबसे ज्यादा प्रभावित शिक्षा हुई है आपको बता दें कि जहां बढ़ते संक्रमण के कारण बच्चे अपनी शिक्षा प्राप्त करने के लिए स्कूल और कॉलेज नहीं जा पा रहे हैं ऑनलाइन ही क्लासेज से पढ़ाई कर रहे हैं वहीं जिन की बोर्ड परीक्षा ( 12th board exam ) होनी है वह भी पेपर के संकट में बैठे हैं आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश एमपी बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई थी जिसके बाद 1 मई से 12वीं कक्षा की परीक्षा ( 12th board exam ) शुरू होनी थी लेकिन कोरोना वायरस की वजह से 1 महीने के लिए स्थगित कर दिया गया था।

यह भी पढ़े : उत्तराखंड: मरीजों की जान बचाने के लिए 64 पुलिसकर्मी करेंगे प्लाज़्मा डोनेट 

12th board exam

यानी मध्य प्रदेश बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं 1 जून से शुरू होनी थी वही दसवीं के छात्रों का रिजल्ट सीबीएससी की तरह आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर तैयार करने की चर्चा की गई है।

यह भी पढ़े : उत्तराखंड: मरीजों की जान बचाने के लिए 64 पुलिसकर्मी करेंगे प्लाज़्मा डोनेट 

स्कूल शिक्षा मंत्री ने की बैठक

आपकी जानकारी के लिए बता दें की कोरोना वायरस के दौर में पेपर कराने को लेकर बीते दिनों स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की तरफ से परीक्षाओं को कराने को लेकर एक बैठक बुलाई गई थी. बैठक में12वीं की परीक्षा को ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन कराने पर चर्चा हुई. लेकिन फाइनल निर्णय नहीं लिया जा सका और बोर्ड द्वारा अभी तक परीक्षा का नया शेड्यूल भी नहीं जारी किया गया है.

Follow Us