Uttar Pradesh

यूपी : गांवों में कोरोना संक्रमण की कमी, सिर्फ सात एक्टिव केस 

जिले में कोरोना के कुल सक्रिय 455 मामलों में 448 ही शहर के हैं। अब गांव में संक्रमण सिमटने लगा है और वहां केवल सात सक्रिय मामले ही बचे हैं। यह सक्रिय मामले बीकेटी, मोहनलालगंज व मलिहाबाद के हैं। जबकि माल, सरोजनीनगर, काकोरी, चिनहट और गोसाईंगंज कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। यह जानकारी प्रशासन द्वारा की जा रही नियमित निगरानी में सामने आई है। गांवों

यह काम तैनात समितियां गांव-गांव में कर रही हैं। दूसरी लहर में चुनाव से पहले जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने गांव-गांव मरीजों का पता लगाने के लिए समितियों को सक्रिय किया था। इसी क्रम में पहली अप्रैल से संक्रमित व्यक्तियों का आंकड़ा जुटाया जा रहा था। यह क्रम अभी जारी है और नियमित नए कोरोना संक्रमित होने वाले और एक्टिव केस का फॉलोअप किया जा रहा है।

अधिकारियों के अनुसार इधर, पिछले दो-तीन दिन की बात करें तो ग्रामीण क्षेत्र के सभी आठ ब्लॉक में कोई नया मरीज नहीं मिला है। साथ ही एक्टिव केस की संख्या भी नियमित गिर रही है।

देर से फैला संक्रमण, पहले राहत
ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण फैलने की शुरुआत शहर की अपेक्षा देर से हुई थी। चुनाव के वक्त यह संक्रमण बढ़ा और फिर चुनाव बाद बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हुए। हालांकि गांवों में लोगों ने जांच ज्यादा नहीं करायी। कई गांवों में संक्रमण जैसे लक्षण वाले कई लोगों की जान चली गई, लेकिन रिकॉर्ड के अनुसार उनमें कोई संक्रमित नहीं था।

यह भी पढ़ें : लखनऊ : लोहिया संस्थान में आज लगेगा रक्तदान शिविर

हालांकि चुनाव बाद प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने गांव-गांव जांच अभियान चलाकर दवा वितरण किया तो कुछ राहत हुई। स्थिति यह है गांवों में शहर से पहले ऑन रिकॉर्ड संक्रमण खात्मे की ओर है। शहर के मुकाबले ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमण फैलने की संभावना कम रहती है। क्योंकि वहां खुला माहौल रहता है। घनी आबादी नहीं है।

शहर में होने वाले मूवमेंट के मुकाबले ग्रामीण क्षेत्रों में एक से दूसरे गांव में मूवमेंट बहुत ज्यादा नहीं रहता। नेचुरल इम्युनिटी भी लोगों में डवलप होती है। चुनाव व होली में मूवमेंट बढ़ने का नतीजा ही रहा कि शहर से शुरू हुआ संक्रमण बाद में गांवों में जबरदस्त फैला था। इसके अलावा एक मरीज कम होने का कारण ग्रामीण क्षेत्र में लोगों द्वारा बहुत ज्यादा जांच न कराने का भी रहता है। -प्रो. कमल सबलानी, मेडिसिन डिपार्टमेंट, केजीएमयू

लेकिन अभी पूरी सतर्कता बरतें : डीएम
जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा है कि संक्रमण घटा रहा है, यह अच्छी बात है, लेकिन हमें सतर्कता पूरी बरतनी होगी। सौ फीसदी संक्रमण से बचाव के प्रयास करते रहें। कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन करें। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग व सैनिटाइजर का प्रयोग जरूरी है। जरूरी नहीं तो घर से न निकलें।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button