sitaraman the india rise news,


गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) काउंसिल की 41 वीं बैठक गुरुवार को हुई। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की वजह से GST कलेक्शन कम हुआ है। वित्त वर्ष 2020 – 2021 के लिए GST राजस्व में 2.35 लाख करोड़ रुपए की कमी का अनुमान है। इस बैठक में वित्तमंत्री ने कहा कि कोरोना एक दैवीय घटना है जिससे GST संग्रह प्रभावित हुआ है। इस साल हम असाधारण स्थितियों का सामना कर रहे हैं। हमें मंदी भी देखने को मिल सकती है।

 

बैठक में कोई बड़ा फैसला नहीं लिया गया, लेकिन उम्मीद है कि दोपहिया वाहन पर टैक्स कटौती को लेकर फैसला लिया जा सकता है। अभी तक टैक्स कटौती को लेकर कोई टाइमलाइन तय नहीं है। मौजूदा समय में दोपहिया बहनों पर 28 फीसदी GST लगता है। जबकि ऑटोमोबाइल सेक्टर से जुड़े लोग 18 फीसदी करने की मांग कर रहे हैं। बजाज ऑटो के एमडी राजीव बजाज का कहना है कि अगर दोपहिया वाहनों पर 18 फीसदी कटौती हो जाएगी तो दोपहिया वाहनों की कीमत 10 हजार तक कम हो सकती है। अगली बैठक में इस पर भी विचार रखा जा सकता है। GST काउंसिल की अगली बैठक सितंबर में होगी।

 

वित्तमंत्री ने कंपनसेशन के लिए दिए दो विकल्प

वित्तमंत्री ने बताया कि राज्य कंपनसेशन को लेकर दो विकल्प हैं। राज्यों ने इन विकल्पों पर विचार करने के लिए एक सप्ताह का समय मांगा है। यह कंपनसेशन 2021 के लिए रहेगा।

 

क्या हैं दो विकल्प

● पहला – केंद्र उधार लेकर भुगतान करे

● दूसरा –  राज्य खुद RBI से उधार ले

 

नहीं बढ़ी GST दर

वित्त सचिव ने बताया कि GST दर को लेकर चर्चा नहीं हुई। वहीं 2021 में 65 हजार करोड़ रुपए की कलेक्शन सेस की उम्मीद जताई है।

 

GST दर घटाने को बताया अच्छा सुझाव 

वित्तमंत्री ने कहा कि GST घटना एक अच्छा सुझाव है इस पर काउंसिल बैठक में विचार किया जाएगा।

Follow Us