BiharChhattisgarhDelhiHealthIndiaMadhya PradeshRajasthanUttar PradeshUttarakhand

Corona virus, corona havoc in China: चीन पर कोरोना का कहर, अब तक 1665 लोगों की मौत

 Corona virus, corona havoc in China:चीन में घातक कोरोना वायरस संक्रमण के कारण और 142 लोगों की मौत होने के साथ ही इससे मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 1,665 हो गई है। फिल्हाल इससे संक्रमित होने के कुल 68,500 मामलों की पुष्टि हुई है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने देश में 2,009 नए मामलों की पुष्टि की है।
corona virus
हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान में 1,843 नए मामले हैं, जहां से दिसम्बर में यह वायरस फैलना शुरू हुआ था। नए मामलों के साथ ही हुबेई में इसके कुल 56,249 मामलों की पुष्टि हो गई है। चीन की सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ की खबर के अनुसार शनिवार को जिन 142 लोगों की मौत हुई उनमें से 139 हुबेई में जबकि सिचुआन में दो और हुनान में एक व्यक्ति की मौत हुई है।

चीन के एक शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि नए मामलों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है। खबर के अनुसार अभी तक कुल 9,419 संक्रमित मरीजों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।

कोरोना वायरस का स्वास्थ्य कर्मियों पर भी काफी गंभीर असर पड़ रहा है अभी तक 1,700 से अधिक चीनी स्वास्थ्य अधिकारी इसकी चपेट में आ चुके हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों के रविवार को बीजिंग पहुंच वायरस से निपटने में चीनी अधिकारियों की मदद करने की संभावना है। स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि डब्लूएचओ के विशेषज्ञ एक संयुक्त मिशन के साथ महामारी नियंत्रण की प्रभावकारिता जानने के लिए चीन के तीन प्रांतों का दौरा करेंगे।
corona
पूरे शरीर को खोखला कर देता है कोरोना
वायरस का फेफड़ों पर असर
कोरोना वायरस की शुरुआत और अंत दोनों फेफड़ों से होते हैं. वायरस से होने वाली सांस की बीमारी सबसे पहले इंसान के फेफड़ों को खराब करना शुरू करती है. फेफड़ों की कोशिकाएं खराब होने के बाद इंसान को सांस लेने में दिक्कत होती है और उसका दम घुटने लगता है.

आंतों को कर देता है खराब
यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड स्कूल ऑफ मेडीसिन के एसोसिएट प्रोफेसर मैथ्यू बी. फ्रायमैन कहते हैं कि कोरोना के लक्षण SARS और MERS वायरस से काफी मिलते-जुलते हैं. दोनों ही इंसान की छोटी और बड़ी आंत को खराब करते हैं. इसलिए ऐसी भी संभावनाएं हैं कि कोरोना वायरस इंसान की आंतों को खोखला कर रहा है.

किडनी भी बंद कर देती है काम करना
इंसान की किडनी शरीर में खून को फिल्टर करने का काम करती है. प्रत्येक किडनी करीब 800,000 माइक्रोसोपिक यूनिट से भरी होती है. मेडिकल भाषा में इन्हें नेफ्रोन्स कहा जाता है. ये खून को फिल्टर कर उसके पोषक तत्वों को शरीर तक पहुंचाने का काम करते हैं, जबकि गैर जरूरी तत्वों को यूरीन के रास्ते शरीर से बाहर निकालते हैं. कोरोना वायरस शरीर के इस सबसे खास हिस्से को भी तबाह कर देता है.

लिवर हो जाता है खराब
कोरोना वायरस के शरीर में दाखिल होने के बाद ये धीरे-धीरे लिवर को डैमेज करने का काम करता है. लिवर इंसान के बॉडी फंक्शन को सही ढंग से चलाने का काम करता है. डॉक्टर्स का कहना है कि इस वायरस की चपेट में आए रोगियों के फेफड़े और लिवर दोनों ही खराब पाए गए हैं. लिवर शरीर की पाचन क्रिया का सबसे प्रमुख हिस्सा है. खून से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने का काम भी लिवर ही करता है.

गर्भवती महिलाओं के लिए बेहद खतरनाक है वायरस
एंजेला रास्मुसेन ने गर्भवती महिलाओं के लिए कोरोना वायरस को और भी ज्यादा खतरनाक बताया है. उन्होंने बताया कि SARS और MERS जैसे वायरस गर्भवती महिला से नवजात शिशु के शरीर में ट्रांसफर नहीं होते हैं, लेकिन कोरोना वायरस मां के साथ-साथ बच्चे को भी चपेट मे लेता है.
corona 1
जानिए क्‍या होते हैं शुरुआती लक्षण
कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति में शुरुआती लक्षण बेहद साधारण होते हैं. इस दौरान व्यक्ति को बुखार आता है और बहुत ज्यादा थकावट होती है. साथ ही रोगी को सूखी खांसी होती है. इसके अलावा कई लोगों में डायरिया जैसी भी शिकायतें देखने को मिली हैं। साधारण सर्दी खांसी की शुरुआत गले में खराश के साथ होती है फिर नाक बहने लगती है जिससे कोल्ड हो जाता है. इनके अलावा बुखार और सिर दर्द की भी शिकायत बनी रहती है और शरीर को आराम नहीं मिलता है। वहीं, कोरोना वायरस के फ्लू में कफ शुरु होते ही सिर और पूरे शरीर में दर्द होने लगता है और सारे लक्षण एकसाथ ही दिखने लगते हैं. गले में दर्द की वजह से आवाज बैठ जाती है. तेज बुखार आने लगता है।

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: