Spiritual

 नए साल में ऐसे करें धन की देवी लक्ष्मी की पूजा, बरसेगी कृपा

नए साल के आगमन के साथ ही हर व्यक्ति के मन में नई चीजों की लालसा बढ़ती जाती है। हर कोई चाहता है कि उसके जीवन में पिछले साल की तुलना में नई सुविधाएँ हों।

नए साल के आगमन के साथ ही हर व्यक्ति के मन में नई चीजों की लालसा बढ़ती जाती है। हर कोई चाहता है कि उसके जीवन में पिछले साल की तुलना में नई सुविधाएँ हों। नए साल में बड़ी सफलता मिलेगी, खासकर आर्थिक पक्ष बहुत मजबूत हो सकता है। प्राचीन वस्तुओं के लिए अपॉइंटमेंट कैसे देखें या प्राप्त करने के बारे में यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं। उचित रूप से कवर किया गया, यह काफी प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करेगा। आइए नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ अचूक उपायों पर।

इसे भी पढ़ें – यूपी: प्रदेश में घनघोर बारिश और ओले की संभावना, बढ़ेगी कड़ाके की ठंड – मौसम विभाग

इन उपायों से दूर होंगी सारी परेशानियां

  • ऐसा माना जाता है कि एक नारियल को 21 बार खुद को मारने के बाद आग में फेंक देना चाहिए। ऐसा करने से जीवन में नकारात्मकता समाप्त हो जाती है। इस तरह पारिवारिक समस्याएं दूर होती हैं।
  • ऐसी भी मान्यता है कि अगर समस्या दूर नहीं होती है तो साल के पहले सोमवार को नारियल की पूजा करें और उसे नदी में प्रवाहित कर दें।
  • अगर आपको आर्थिक परेशानी है तो साल के पहले दिन चांदी का हाथी कम से कम 150 ग्राम वजन का खरीदें। और मां लक्ष्मी की पूजा करें और उत्तर दिशा की स्थापना करें। कहते हैं पुराने कर्ज दूर हो जाते हैं।
  • साल की शुरुआत में चांदी का एक छोटा टुकड़ा अपनी जेब में रखें या जहां आप पैसा डालते हैं। इस उपाय से धन की समस्या दूर होती है।
  • अगर आप या आपके परिवार का कोई सदस्य तनाव में है तो 43 दिनों तक चंदन का तिलक लगाने से हर तरह का तनाव दूर हो जाएगा।
  • जीवन में आने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए ये उपाय काफी कारगर हैं। तांबे के बर्तन में नियमित रूप से पानी भरें और अगली सुबह इसे किकर प्लांट में डालें।  ऐसा लगातार 43 दिनों तक करने से समस्या खत्म हो जाएगी।
  • 21 शुक्रवार तक देवी लक्ष्मी को खीर का भोग लगाएं, उनका प्रसाद बांटने से आपको आर्थिक लाभ होगा।
  • शनिदोष से छुटकारा पाने के लिए एक कटोरी में सरसों का तेल लें और उसमें अपना चेहरा देखें और इसे तेल की कटोरी के साथ दान करें या शनि मंदिर में रखें।  इस छाया का दान करने से आपको लाभ होगा। इसके बाद 11वें शनिवार तक मंदिर में सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: