TrendingUttarakhand

उत्तराखंड : मदरसों लागू होगा ड्रेस कोड, अब कुर्ता-पायजामा नहीं नजर आएँगे बच्चे …

देहरादून :  उत्तराखंड के मदरसों के बच्चे अब कुर्ता – पायजामा में नहीं नजर आएगे। मदरसों में अब से ड्रेस कोड  नया ड्रेस कोड लागू किया जाएगा । इसकी जानकारी साझा करते हुए वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स  ने बताया की,  ”हम उत्तराखंड में मॉर्डन मदरसे विकसित करना चाहते हैं। मदरसों में ड्रेस कोड लागू करने के साथ ही सात मदरसों को मॉर्डन मदरसा बनाया जाएगा। इसके लेकर प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। जहां इसे जल्द से जल्द लागू करने का प्रयास किया जाएगा।”

इसके आगे बोलते हुए वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा की, ”ड्रेस कोड शुरू में अगले शैक्षणिक सत्र से इसके अधिकार क्षेत्र में आने वाले 103 मदरसों में से सात “मॉडल मदरसों” में लागू किया जाएगा। इसे चरणबद्ध तरीके से बढ़ाया जाएगा। हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी ड्रेस कोड को अंतिम रूप देना बाकी है, लेकिन इसे जल्द ही करेंगे।  मदरसों को मॉडर्न स्कूल के तर्ज पर चलाई जाने की भी तैयारी चल रही है. जहां पहले चरण में 7 मदरसे में ड्रेस कोड लागू किया जाएगा, जिसमें दो देहरादून, दो उधमसिंह नगर, दो हरिद्वार और एक नैनीताल के के मदरसों में ड्रेस कोड लागू किया जाएगा।”

ये भी पढ़े :- उत्तराखंड में गुरु तेगबहादुर शहीद दिवस के अवकाश की तारीख में किया गया बदलाव, जानिए अब कब रहेगी छुट्टी ?

वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा कि, ”हमारा बच्चा डॉक्टर, इंजीनियर बने, एपीजे अब्दुल कलाम के रास्ते पर चले और आगे बढ़े। उस दिशा में हम अपने मदरसों को बनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपने है कि हर बच्चे की अच्छी शिक्षा मिले। पीएम मोदी ने कहा था कि मैं मदरसे में पढ़ने वाले हर बच्चे के एक हाथ में कुरान और एक हाथ में लैपटॉप देखना चाहता हूं।”

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: