उत्तराखंड (Uttarakhand) में शनिवार को कोरोना वायरस (Corona virus) के पांच हजार नए केस मिले हैं. एक दिन में पांच हजार पॉजिटिव केस (Positive case) उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण शुरू होने से लेकर अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. शनिवार को 81 लोगों की जान चली गई और मौतों का ये आंकड़ा भी अब तक का सर्वाधिक है. उत्तराखंड में हर दिन आंकड़े बढ़कर आ रहे हैं.

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: नई टिहरी राजकीय नर्सिंग कॉलेज के हॉस्टल में 95 छात्र-छात्राएं कोरोना की हुई शिकार  

वहीं, हॉस्पिटल भी कमोबेश ओवरलोड हो चुके हैं. एम्स ऋषिकेश में शाम साढ़े छह बजे तक बिना ऑक्सीजन वाले बीस बेड में से 19 फुल थे. ऑजचलुबबनक्सीजन वाले तीन सौ बेड में से मात्र 41 बेड खाली थे, जबकि 70 आईसीयू बेड में से 55 बेड फुल हो चुके थे.

सीएमआई देहरादून में जनरल वार्ड में कोविड पेंशेंट को डेडिकेटेड आठ बेड फुल हो चुके थे. 70 ऑक्सीजन बेड में से तीस फुल हो चुके थे. आईसीयू के सभी छह बेड मरीजों से भरे हुए थे. दून हॉस्पिटल के जनरल वार्ड में 23 में से 11 बेड खाली थे, तो ऑक्सीजन के 280 बेड में से मात्र 17 बेड ही खाली थे. आईसीयू के 104 में से मात्र पांच बेड खाली थे.

उत्तराखंड (Uttarakhand) में शनिवार को कोरोना वायरस (Corona virus) के पांच हजार नए केस मिले हैं. एक दिन में पांच हजार पॉजिटिव केस (Positive case) उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण शुरू होने से लेकर अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. शनिवार को 81 मौते भी हुईं और मौतों का ये आंकड़ा भी अब तक का सर्वाधिक है. उत्तराखंड में हर दिन आंकड़े बढ़कर आ रहे हैं. वहीं, हॉस्पिटल भी कमोबेश ओवरलोड हो चुके हैं. एम्स ऋषिकेश में शाम साढ़े छह बजे तक बिना ऑक्सीजन वाले बीस बेड में से 19 फुल थे. ऑजचलुबबनक्सीजन वाले तीन सौ बेड में से मात्र 41 बेड खाली थे, जबकि 70 आईसीयू बेड में से 55 बेड फुल हो चुके थे.

सीएमआई देहरादून में जनरल वार्ड में कोविड पेंशेंट को डेडिकेटेड आठ बेड फुल हो चुके थे. 70 ऑक्सीजन बेड में से तीस फुल हो चुके थे. आईसीयू के सभी छह बेड मरीजों से भरे हुए थे. दून हॉस्पिटल के जनरल वार्ड में 23 में से 11 बेड खाली थे, तो ऑक्सीजन के 280 बेड में से मात्र 17 बेड ही खाली थे. आईसीयू के 104 में से मात्र पांच बेड खाली थे.

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड : PAC जवानों के ट्रकों में आने-जाने पर लगी पाबंदी 

रुड़की में अलग-अलग मोहल्लों में कोरोना से 2 मरीजों की जान गई है। आजाद नगर निवासी युवक की तबीयत खराब होने पर उसे सिविल अस्पताल लाया गया, लेकिन तब तक युवक की जान जा चुकी थी युवक कोरोना पॉजिटिव था। वहीं, रामनगर निवासी एक बुजुर्ग महिला की भी करोना से मौत हुई है। महिला का उपचार देहरादून के एक अस्पताल में चल रहा था।

Follow Us