EducationGovernment PoliciesIndia Rise SpecialUttar Pradesh

UP को स्टार्टअप हब बनाने की तैयारी, योगी का सुपर डुपर प्लान. अब स्टूडेंट जॉब सीकर नहीं, जॉब प्रोवाइडर बनेंगे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्टार्टअप के लिए पहली किश्त काट दी है. 15 करोड़ की यह पहली किश्त सिडबी को सौंप दी गई है. साथ ही प्रदेश सरकार और सिडबी के एमओयू पर  सिग्नेचर भी किए गए हैं

वैसे तो उत्तरप्रदेश के सीएम योगी ने UP की कमान अच्छे से संभाल रखी है. और योगी आदित्यनाथ किसी भी चुनौती का डट कर सामना करते हैं.

हर बार की तरह इस बार भी सीएम  योगी ने  एक नए काम की शुरुआत की है वो काम है Young Entrepreneurs यानी कि योगी सरकार अब किसी भी स्टूडेंट को जॉब सीकर नहीं  बल्कि जॉब प्रोवाइडर बनता देखना चाहती है.
इसके लिए शिक्षा पद्धति में कुछ बदवाल भी किए गए हैं
ग्रैजुएशन और पोस्ट ग्रैजुएशन के बाद एक साल की स्टडी लीव दी जाएगी. इससे स्टूडेंट इंटर्नशिप कर सकते है.पहले साल में 1 लाख स्टूडेंट्स को इंटर्नशिप प्रोग्राम में शामिल किया जाएगा जिसमें उन्हें 2500 प्रतिमाह का भत्ता दिया जाएगा.
उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि समय के साथ कुछ नीतियों का बदलना जरूरी है. हमारी नीयत नेक है लेकिन नीयत के साथ – साथ निर्णय लेने की क्षमता को भी गति देनी होगी ताकि हम लक्ष्य को सरलता से प्राप्त कर पाएं. सीएम ने आगे कहा, कि अच्छे निर्णयों को जल्दी लेना अति आवश्यक है. अगर कुछ निर्णय समय और नहीं लिए गए तो एक बड़ा वर्ग योजनाओं का लाभ नहीं उठा पाएगा सही समय और निर्माण लोगों के जीवन को नई दिशा दे सकता है.
वैसे बता दें कि स्टार्टअप को विश्विद्यालय और महाविद्यालय में एक नए विषय के रूप में जोड़ा जा सकता है.

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button