Government Policies

क्या है यूपी महिला सामर्थ्य योजना? क्या है इस योजना का उद्देश्य?

हम सब अपने जीवन में कभी ना कभी महिला सशक्तिकरण की बातें जरूर करते हैं और हम चाहते हैं कि हमारे देश की महिलाओं को सशक्त किया जा सके. महिलाओं के कल्याण एवं सशक्त बनाने के लिए हमारी देश की सरकारें भी काफी ज्यादा प्रयत्न करती नजर आती है इस दौड़ में उत्तर प्रदेश की सरकार भी पीछे नहीं है. आपको इस बात की जानकारी हो कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा एक ऐसी योजना चलाई जा रही है, जिससे हमारे प्रदेश की महिलाओं को सशक्त बनाने में आसानी हो और महिलाएं पुरुषों के साथ कदम से कदम बढ़ा कर आगे चल सके।

इसलिए आज हम आपको एक ऐसी योजना से अवगत कराने जा रहे हैं जिसका नाम है यूपी महिला सामर्थ्य योजना इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश की योगी सरकार महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित करने का काम करती है इतना ही नहीं उनके जीवन स्तर को और बेहतर बढ़ाने के बीच सरकार द्वारा प्रयास किए जाते हैं इसलिए को पढ़कर आप इस योजना से जुड़ी सभी छोटी से बड़ी जानकारियों को हासिल कर पाएंगे और अगर आप महिला हैं तो आप इस योजना का लाभ भी उठा सकती है।

क्या है महिला सामर्थ्य योजना ?

योजना का नामयूपी महिला सामर्थ्य योजना
किस ने लांच कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यप्रदेश की महिलाओं को रोजगार के लिए प्रेरित करना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2021

जैसा कि इस योजना के नाम से ही समझ आ रहा है यह योजना महिलाओं के लिए शुरू की गई है और इसे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित किया जाता है इस महिला सामर्थ्य योजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश की हर महिला को रोजगार के लिए प्रेरित करना तथा स्थानीय संसाधनों के आधार पर होम एंड कॉटेज उद्योगों के माध्यम से उनके जीवन स्तर में और ज्यादा सुधार लाने का प्रयास करना इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को अपनी उपज को बचाने के लिए सरकार द्वारा बाजारों को भी उपलब्ध कराया जाता है। इस योजना को उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी बजट 2021-22 में लाने की घोषणा की थी जिसके बाद फरवरी 2021 को इस योजना का शुभारंभ किया गया.

यह भी पढ़े : क्या है फ्री सिलाई मशीन योजना, जानें कौन उठा सकता है लाभ 

200 करोड़ का हुआ बजट निर्धारित

वित्‍तीय वर्ष 2021-2022 से महिला सामर्थ्‍य योजना के नाम से नई योजना शुरू की जाएगी इस योजना के लिए सरकार द्वारा 200 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया है। यह योजना महिला सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए एक महत्वकांक्षी योजना साबित होगी। यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021 का कार्यान्वयन दो स्तरीय कमेटी के माध्यम से किया जाएगा।

प्रदेश में क्यों आवश्यक है यह योजना ?

उत्तर प्रदेश में करीब 90 लाख सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग है। इनमें से 80 लाख से अधिक सूक्ष्म इकाइयों में स्थापित है। जोकि होम एंड कॉटेज उद्योगों के अंतर्गत संचालित किए जाते हैं। इन सभी उद्योगों को प्रदेश की महिलाओं द्वारा चलाया जाता है इसमें महिलाओं की एक अहम भूमिका होती है इसलिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा यूपी महिला सामर्थ्य योजना को आरंभ किया गया जिससे कि महिला द्वारा संचालित किए जा रहे उद्योग का उत्थान किया जा सके और महिलाओं को आगे बढ़ने में बढ़ावा मिल सके। सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की सुविधाएं प्रदान करके यूपी महिला सामर्थ्य योजना का कार्यान्वयन किया जाएगा। इन सुविधाओं को प्रदान करने के लिए सुविधा केंद्र खोले जाएंगे। इन सुविधा केंद्रों पर पैकेजिंग लेबलिंग बारकोडिंग आदि जैसी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

महिला सामर्थ योजना के मुख्य लाभ

• उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए यूपी महिला सामर्थ्य योजना आरंभ की गई है।

• इस योजना के माध्यम से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित किया जाएगा।

• यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021 के अंतर्गत स्थानीय संसाधनों के आधार पर होम एंड कॉटेज उद्योगों के माध्यम से महिलाओं के जीवन स्तर में सुधार लाने का प्रयास किया जाएगा।

• इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को अपनी उपज को बेचने के लिए सरकार द्वारा बाजार भी उपलब्ध करवाया जाएगा।

• उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी महिला सामर्थ्य योजना को बजट की घोषणा करते हुए 22 फरवरी 2021 को आरंभ किया गया है।

• इस योजना के कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

• यह योजना महिला सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए एक महत्वकांक्षी योजना साबित होगी।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button