Delhi

यूपी के बड़े किसान नेता ने राकेश टिकैत पर लगाया आरोप, बोले…..

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नई कृषि कानूनों का विरोध लगातार चल रहा है आपको बता दें कि दिल्ली-एनसीआर के चारों बॉर्डर पर यानी शाहजहांपुर, गाजीपुर, सिंधु और टिकरी बॉर्डर पर यूपी,पंजाब और राजस्थान समेत कई राज्यों के किसान धरना प्रदर्शन इस कानून के खिलाफ कर रहे हैं. आंदोलनकारी किसानों की मांग है कि सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों को पूरी तरह से रद्द कर दिया जाए इसके लिए पिछले साढे 6 महीने से दिल्ली एनसीआर के चारों बॉर्डर पर किसान डटे हुए हैं.

UP farmer leader

इस पूरे आंदोलन की अगुवाई कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा और भाकियू नेता अड़े हैं कि तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए इस बीच दिल्ली यूपी के गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत पर किसान नेता और भारतीय कृषि यूनियन भानू गुट के राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने एक बड़ा हमला बोला है उन्होंने राकेश टिकैत और उनके अन्य साथियों पर आरोप लगाते हुए का है कि उनका हमेशा से यही काम है. आंदोलन बेचना और अपना पेट भरना.

यह भी पढ़े : दिल्ली सरकार करेगी रोजमर्रा के खर्च में कटौती, कोरोना के कारण राजस्व में आई कमी

उन्होंने यहां तक कह दिया कि राकेश टिकैत जब दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे थे तब कांग्रेस की फंडिंग चल रही थी। पिछले महीने राकेश टिकैत पश्चिमी बंगाल में ममता बनर्जी से पैसे लेने गए थे। बता दें कि राकेश टिकैत ने पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृण मूल कांग्रेस की सरकार बनने के बाद उनसे मुलाकात की थी।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button