Uttar Pradesh

UP : भगत सिंह के किरदार के लिए नाटक की रिहर्सल करते वक्त बच्चे की फांसी लगने से हुई मौत

UP : जनपद बदायूं के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के एक गांव में रिहर्सल कर रहे बच्चे की मौत हो गई। दरअसल, 15 अगस्त को भगत सिंह पर नाटक पेश करने की रिहर्सल कर रहे बच्चे के गले में फंदा लग गया जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद बिना पुलिस कार्रवाई के ही परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया।

कुंवरगांव थाना क्षेत्र के बाबट ग्राम निवासी भूरे सिंह का 10 वर्षीय पुत्र शिवम गुरूवार को घर में अकेला था। जिससे मोहल्ले के दूसरे बच्चे भी उसके साथ आ गये। वे सभी स्वतंत्रता दिवस पर सरदार भगत सिंह नाटक की तैयारी में लग गए। बच्चे की मां आरती और पिता खेत में काम कर रहे थे।

15 अगस्त के मौके पर सरदार भगत सिंह से जुड़े नाटक का बच्चे अभ्यास कर रहे थे। जिसमे सरदार भगत सिंह का रोल मृत बच्चा शिवम कर रहा था। इस दौरान फंदा लग जाने से शिवम की जान चली गई।

बच्चों ने घटना के बाद आस पास के लोगों को मदद के लिए बुलाया। लोगों ने खेत पर काम कर रहे शिवम के माता-पिता को सूचना दी और तब उसे फांसी के फंदे से उतारा गया। परिजनों ने इसके बाद मृत बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया।

गांव के प्रधान भीमसेन सागर ने बताया कि सभी बच्चे खेल रहे थे मृत बच्चे के माता-पिता घर पर नहीं थे तभी उसके गले में फांसी का फंदा लग गया और उसकी मौत हो गई। बिना पुलिस को जानकारी दिए ही परिजनों ने बिना किसी कार्रवाई बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया।

बदायूं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में आ गया है उन्होंने बताया कि कुंवर गांव थाना के थानाध्यक्ष के नेतृत्व में पुलिस की टीम को घटनास्थल पर पहुंची। मृत बच्चे परिजनों ने बताया कि बच्चे की मौत हुई है लेकिन उसके पीछे के कारण की जानकारी नहीं दी।

गांव वालों का कहना है कि भगत सिंह नाटक की रिहर्सल के समय बच्चा स्टूल से गिर पड़ा और फंदा उसके गले ने लगने से उसकी मौत हो गई।

ये भी पढ़ें:- उत्तर प्रदेश : अलकायदा समर्थित आतंकियों को 14 अगस्त तक छोड़ने के लिए आया धमकी भरा पत्र

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: