COVID19

अनलॉक3.0 में खुल सकते हैं सिनेमाघर और जिम, सरकार जल्द जारी करेगी अनलॉक 3.0 की गाइडलाइन

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर जहां राज्य सरकारें अपने यहां लॉकडाउन बढ़ा रहे हैं। वहीं, केंद्र सरकार 31 जुलाई के बाद अनलॉक 3.0 का मन बना रही है। लॉकडाउन को खोलने की प्रक्रिया 8 जून से शुरू हुई थी। अनलॉक 1.0 में सरकार ने आर्थिक व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कई चीजों में छूट दी थी। इसके बाद 1 जुलाई से अनलॉक 2.0 शुरू किया गया, जिसमें छूट का दायरा और अधिक बढ़ाया दिया गया था। अब तीसरे चरण में सरकार छूट के दायरे को और बढ़ा सकती है, सूत्रों के अनुसार अनलॉक 3.0 के तहत इंटरनेशनल फ्लाइट्स, जिम और सिनेमा हॉल को फिर से शुरू करने की परमिशन मिल सकती है। सरकार अनलॉक 3.0 के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) भी तैयार कर रही है।

अनलॉक 3.0 में सिनेमाघरों के खुलने की जगी उम्मीद

एक तरफ पूरा देश कोरोना वायरस महामारी से लड़ रहा है। हर किसी की कोशिश है कि संक्रमण से बचकर जिंदगी को पटरी पर लाने की कोशिश की जाए। वहीं दूसरी ओर कई लोगों के मन में सवाल हैं कि सिनेमा हॉल कब खुलेंगे? कब वे पहले की तरह बड़े पर्दे पर फिल्में देख पाएंगे? अच्छी बात यह है कि अनलॉक 3 में  देशभर में सिनेमा हाल खुलने की उम्मीद जगी है।

सूचना तथा प्रसारण मंत्रालय ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से 1 अगस्त से सिनेमा हॉल खोलने की सिफारिश की है। इस बारे में सरकार और सीआईई मीडिया कमेटी की बंद कमरे में बैठक हो चुकी है। सिनेमा हॉल मालिकों के साथ चर्चा के प्रपोजल को सूचना मंत्रालय ने गृह मंत्रालय को भेज दिया है। अब आखिरी फैसला गृह मंत्रालय को लेना है।

25 फीसदी दर्शकों के साथ शुरू हो सकते हैं सिनेमाघर

सिनेमा हॉल मालिक 50 फीसदी दर्शकों के साथ थियेटर शुरू करने के पक्ष में है। हालांकि मंत्रालय मंत्रालय का मानना है कि शुरुआत में 25 फीसदी सीट के साथ सिनेमा हॉल खोला जाए और नियमों का सख्ती से पालन हो।इसके साथ ही सिनेमाघरों में आयु सीमा निश्चित की जा सकती है। ऐसा बताया जा रहा है कि 15 साल से 50 साल के बीच वाले लोग ही सिनेमाघरों में जा सकेंगे। 25 फीसदी दर्शकों के साथ सिनेमा हॉल खोलने सिनेमा मालिक बहुत ज्यादा खुश नहीं है। सिनेमा मालिकों का कहना है कि,यह तो सिनेमा हॉल पूरी तरह से बंद रखने से भी बुरी स्थिति है।

स्कूल-कॉलेज अभी बन्द रहेंगे

पहले माना जा रहा था कि इस बार स्कूल-कॉलेज खोलने पर विचार किया जा रहा है। लेकिन पिछले कुछ दिनों में जिस रफ्तार से देश में कोरोना के मामले बढ़े हैं, उसको लेकर सरकार भी चिंतित है। इसलिए फिलहाल स्कूल-कॉलेज पर लगा प्रतिबंध जारी रह सकता है।

एयरपोर्ट पर करानी होगी कोरोना जांच

अनलॉक 3.0 के तहत सरकार अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू कर सकती है। इसके लिए पैसेंजर्स को एयरपोर्ट पर ही रैपिड एंटीजेन टेस्ट करवाना होगा।  रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही यात्रा की अनुमति होगी। यही प्रोसेस बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए भी होगी, जो यात्री कोरोना पॉजिटिव पाये जायेंगे उन्हें अपने खर्च पर कोरेंटिन में रहना होगा। यात्रा के लिए पैसेंजर्स को तीन से चार घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचाना होगा। पहले 15 जुलाई से इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू करने की तैयारी थी मगर अभी इसे रोक दिया गया है।

राज्यों को मिल सकती है कुछ और छूट

केंद्र सरकार इस बात का फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ सकती है कि वे अपने यहां लॉकडाउन में कितना छूट देते हैं। डे-टू-डे ऐक्टिविटीज पर कितनी रोक लगानी है, यह अधिकार भी राज्यों के पास ही रहेगा। सिनेमा हाल और जिम के अलावा अनलॉक 3 में कुछ और छूट राज्यों को मिल सकता है।हालांकि सूत्रों की मानें तो स्कूल और मेट्रो अभी नही खोली जाएगी। 31 जुलाई को अनलॉक 2 खत्म हो रहा है और 31 जुलाई तक गृह मंत्रालय कर तरफ से अनलॉक 3 की गाइड लाइन जारी कर दी जाएगी।

देश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले

बता दें, पिछले कुछ दिनों में कोरोना वायरस के मामले काफी तेजी से बढ़े हैं। प्रत्येक दिन लगभग 50 हजार मामले सामने आ रहे हैं। रविवार के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना के कुल मामले 13 लाख 85 हजार 522 हो गए हैं। हालांकि अब तक देश में 8,85,577 लोग स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि 4,67,882 लोगों का इलाज चल रहा है।

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button