TourismTrending

फेस्टिव सीजन में घटी ताज में पर्यटकों की संख्या ने बढाई चिंता, उठी ऑनलाइन वीजा शुरू करने मांग

आजादी का अमृत महोत्सव, रक्षाबंधन और जन्माष्टमी के चलते इन दिनों ताजमहल के दीदार को पहुंचने वाले लोगों की संख्या में कमी दर्ज की गयी है।  इस तरह से घटी पर्यटकों की संख्या ने व्यापारियों की चिंता को बढाया है। जिसको लेकर अब एक महीने बाद से शुरू हो रहे पर्यटन सीजन से पहले ही पर्यटन व्यवसायी ने विदेशी पर्यटकों के लिए ऑनलाइन वीजा दोबारा शुरू करने की मांग कर रहे हैं।

दरअसल, इस अगस्त माह में ताजमहल पर लगभग 80 लाख के करीब पर्यटक पहुंचे। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत ताजमहल 11 दिनों के लिए मुफ्त रहा। इस दौरान ही 70 लाख से अधिक पर्यटक आगरा आये। इसके बाद जन्माष्टमी और वीकेंड पर भी ताजमहल पर पैर रखने की जगह मिलना मुश्किल रहा। बीते दिनों की तुलना में इस वीकेंड पर ताजमहल पर पर्यटकों की संख्या कम हुई है।

बीते सप्ताह शनिवार को 29 हजार 2 सौ 93 और रविवार को 34 हजार पर्यटक ताजमहल पहुंचे थे। इस शनिवार 21 हजार 511 और रविवार को भी 22 हजार के लगभग पर्यटक ताजमहल का दीदार करने आये। बीते सप्ताह की तुलना में आठ हजार के लगभग पर्यटक कम होने से पर्यटन व्यवसायियों को चिंता हो गई है।

इस माह में शुरू होगा पर्यटन सीजन

आगरा में हर साल  अक्टूबर माह से पर्यटन सीजन  की शुरुआत होती है। इसके साथ ही आगरा में ताजमहल के दीदार के लिए भारतीय के साथ ही विदेशी पर्यटकों की संख्या बढ़ जाती है। विदेशी पर्यटकों की संख्या बढ़ने से पर्यटन से जुड़े व्यवसायियों को काफी लाभ होता है। होटल्स फुल हो जाते हैं। ट्रेवेल्स और अन्य कार्य करने वाले लोगों को भी भरपूर काम मिलने लगता है। फरवरी माह तक यह सीजन चलता है।

पर्यटन व्यवसाय से जुड़े तनिष्क राय का कहना है की, ”इस माह त्योहार और वीकेंड के दिनों में ताजमहल पर भीड़ और अव्यवस्थाओं की जानकारी सोशल मीडिया और मीडिया के माध्यम से लोगों को मिली। इसके चलते पर्यटकों की संख्या कम हुई है।”

इस वजह से उठी ऑनलाइन वीजा की मांग 

कोरोना काल में भारत ने विदेशी पर्यटकों के लिए ऑनलाइन टूरिस्ट वीजा बंद कर दिया था। पर्यटक को अपने देश के भारतीय दूतावास जाकर कागजी प्रक्रिया पूरी कर ऑफलाइन आवेदन करना पड़ता था। इस कारण झंझट से बचने के लिए पर्यटक भारत घूमने से कतरा रहे हैं। आगरा में हजारों की तादाद में आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या अब सैकड़ों में रह गयी है। होटल एसोसिएशन के रमेश वाधवा का कहना है की,  ”कोविड के चलते ऑनलाइन टूरिस्ट वीजा आवेदन सरकार ने बंद कर दिया था। अब माहौल सही हो गया है। इसलिए अब यह प्रक्रिया दोबारा शुरू कर देनी चाहिए वरना पर्यटन कारोबारियों को सीजन में काफी नुकसान हो जाएगा।”

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: