Success Story

Success Story: इंजीनियर का सपना लेकर बनी अफसर, पास की UPSC परीक्षा

इंजीनियर बनने के लिए आईआईटी का एंट्रेंस एग्जाम भी क्लियर कर लिया था। कानपुर आईआईटी से उन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री भी हासिल की

कई लोगों का शुरुआत में कुछ और लक्ष्य होता है, जो समय के साथ बदल जाता है। आज आपको आईएएस अफसर तेजस्वी राणा के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कभी इंजीनियर बनने की चाहत रखती थीं। लेकिन फिर आईएएस बनने की राह पकड़ ली।
राणा ने इंजीनियर बनने के लिए आईआईटी का एंट्रेंस एग्जाम भी क्लियर कर लिया था। कानपुर आईआईटी से उन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री भी हासिल की। लेकिन इसके बाद पैरेंट्स की सलाह पर उन्होंने यूपीएससी में जाने का मन बनाया। साल 2016 की यूपीएससी परीक्षा में उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 12 हासिल कर आईएएस बनने का सपना पूरा कर लिया।
हरियाणा के कुरुक्षेत्र निवासी तेजस्वी राणा पढ़ाई में बचपन से ही काफी होशियार थीं। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में भी उनके बेहतरीन नंबर थे। इंटर के बाद उन्होंने इंजीनियरिंग में करियर बनाने का फैसला किया। इसके बाद उन्होंने जेईई का एग्जाम दिया और उसमें उन्हें सफलता मिल गई। औऱ उन्होंने आईआईटी कानपुर से उन्होंने ग्रेजुएशन पूरा किया। साल 2015 में तेजस्वी राणा ने पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी। और उन्होंने प्री-परीक्षा तो पास कर ली, लेकिन मेंस में सफलता नहीं मिली।
इसके बाद राणा ने तैयारी को मजबूत किया और बेहतर तरीके से दूसरी बार प्रयास किया। इस बार किस्मत ने उनका साथ दिया और उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 12 हासिल कर रिकॉर्ड बना दिया। इस तरह उनका यूपीएससी का सफर पूरा हो गया। तेजस्वी का मानना है कि, सबसे पहले आप अपने सिलेबस को अच्छी तरह देख लें. उसके हिसाब से अपनी पढ़ाई का शेड्यूल बनाकर उसे अपने सामने लगा लें। एनसीईआरटी की किताबों से अपना बेसिक मजबूत करें। सिलेबस कंप्लीट करने के बाद मॉक टेस्ट पेपर दें और आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करें।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: