इंडिया राइज स्पेशलभारतशख्सियत

चंडीगढ़ की रिची अनोखे अंदाज में मनाएंगी बर्थडे, कई शहरों में बांटेंगी सैनेटरी पैड्स

चंडीगढ़ की रिची सूद अपने खास दिन पर सेलेब्रेशन की जगह महिलाओं की मदद करना चाहती हैं। रिची कई सालों से महिला वर्ग के उत्थान, सुरक्षा, जरूरतों और मदद के लिए हाथ बढ़ती दिखी हैं। रिची Rayons NGO के साथ मिल कर मेंस्ट्रुअल (menstrual) परेशानी से जूझ रही महिलाओं की मदद करती हैं।

Richi Sood

रिची का जन्मदिन 26 जुलाई को है और इस खास दिन वो पार्टी और सेलेब्रेशन करने की जगह, महिलाओं की मदद करना चाहती हैं। अपने इस खास दिन पर वो न केवल एक, बल्कि कई शहरों में सेनेटरी पैड डिस्ट्रीब्यूट करेंगी। खासतौर पर चंडीगढ़, बरेली, पटियाला, मेरठ, सहारनपुर में 26 जुलाई, रविवार को पैड्स डिस्ट्रीब्यूट किए जाएंगे।

 

NOTE: Sanitary Pad Distribution drive on 26th July

रिची का कहना है कि पर्सनल केयर और हाइजीन न रख पाने से महिलाएं कई बीमारियों से जूझती हैं। बल्कि कई इलाकों मेंसेनेटरी पैड की किल्लत है। इस तरह की समस्या को देखते हुए उन्होंने कई ग्रामीण इलाकों और स्कूलों में भी पैड्स डिस्ट्रीब्यूट किए हैं। इसके अलावा पर्सनल केयर और हाइजीन से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियां भी साझा की हैं। साथ ही उन्होंने एक मैसेज देते हुए कहा कि “बदलाव और प्रयत्न जरूरी हैं; छोटे-छोटे प्रयत्न एक बड़ा बदलाव करते हैं”

रिची इससे पहले भी ऐसे आयोजन करती रही है तथा हाल ही में आयकर अधिकारी अमनप्रीत द्वारा देशभर में आयोजित अभियान में रिची ने भी योगदान दिया था


62 प्रतिशत महिलाएं अभी भी सेनेटरी पैड से अनजान हैं

बता दें कि लॉकडाउन में राशन, दवाओं और जरूरी सामान की किल्लत तो थी ही, लेकिन एक बड़ी समस्या हजारों लाखों युवतियों और महिलाओं की थी। यहां दिक्कत दोनों तरफ से थी। एक तरफ तो,जो महिलाएं सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं वो भी इन्हें खरीद नहीं पा रही थीं। दूसरी तरह सोचने वाली बात यह है कि अभी भी भारत में 62 प्रतिशत महिलाएं सेनेटरी पैड से अंजान हैं।

57.6 प्रतिशत महिलाएं यूज करती हैं पैड्स 

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ सर्वेक्षण के अनुसार 57.6 प्रतिशत ही महिलाएं सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं। 24 प्रतिशत लड़कियां स्कूल में सेनेटरी पैड न होने की वजह से menstrual date से पहले ही स्कूल आना बंद कर देती हैं।

कई संस्थाओं का मिलेगा सहयोग

इस मुहीम में रिची के साथ अनेक संस्थाये भी साथ आ रही है | संगिनी सहेली (दिल्ली), रायोंस (उत्तर प्रदेश) , पैड बैंक(बरेली), क्लब 60 (मेरठ), यंग फाउंडेशन (सहारनपुर) आदि के स्वयंसेवक रिची के साथ इस मुहीम को सफल बनाने में जुट गए है | रिची को समाज के सभी वर्गों से सहयोग मिल रहा है

इसके अलावा आयकर अधिकारी अमनप्रीत तथा भारतीय डाक सेवा की अधिकारी आरती भी रिची के जन्मदिवस पर आयोजित इस कार्यक्रम में अपना योगदान दे रही है | उन्होंने रिची को शुभकामनाये देते हुए संगिनी सहेली की मुहिम को आगे बढ़ने के लिए धन्यवाद भी दिया

Follow Us

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please deactivate the Ad Blocker to visit this site.