EducationIndia Rise SpecialRajasthanSocial Media / Viral

Rajasthan: छात्र ने कहा इस बार सबको पास कर दो तो मंत्री ने दिया यह जवाब

द इंडिया राइज
राजस्थान बोर्ड 10वीं और 12वीं के लाखों छात्र जहां बेसब्री के साथ अपने शेष पेपरों की नई तिथियों के ऐलान का इंतजार कर रहे हैं वहां लॉकडाउन और कोरोना वायरस से पैदा हुई स्थितियों के चलते राज्य में पहले से 9वीं और 11वीं कक्षा के सभी छात्रों को अगली क्लास में प्रमोट कर दिया गया है।
board exam
इस बीच राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (आरबीएसई) के कक्षा 10वीं के छात्र ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासारा से ट्विटर पर अनुरोध करते हुए कहा ‘कृपया शेष बची परीक्षाओं को रद्द कर दें और सभी बच्चों को अगली क्लास में प्रमोट कर दें। लॉकडाउन की स्थित में हम बहुत कंफ्यूज हैं। बचे हुए पेपरों को लेकर बहुत परेशान हैं।’ इसके जवाब में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासारा ने कहा, ‘बेटा, कंफ्यूज और परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। अपनी पढ़ाई जारी रखें। परीक्षाएं जल्द ही शुरू होंगी।’

कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन के चलते राजस्थान में 10वीं 12वीं की बोर्ड लटकी हुई हैं। कई विषयों के पेपर अभी बाकी हैं। कोरोना की स्थिति के चलते इन्हें मार्च में ही स्थगित करना पड़ा था। फिलहाल बोर्ड के परीक्षार्थियों को घर में रहकर ही शेष रहे पेपरों के अध्ययन की सलाह दी गई है।

राजस्थान बोर्ड की परीक्षा में 10वीं और 12वीं में इस बार कुल 20.50 परीक्षार्थी पंजीकृत किए गए हैं। इनमें 10वीं के 11.35 लाख और 12वीं के 8.67 लाख विद्यार्थी हैं। बोर्ड की दसवीं कक्षा की परीक्षाएं 12 मार्च से शुरू हुई थी और 24 मार्च को पूरी होने वाली थी। जबकि कक्षा 12वीं की परीक्षाएं 5 मार्च से शुरू हो गई थी और 3 अप्रैल को पूरी होने वाली थी। बोर्ड ने शेष रही परीक्षाओं को स्थगित कर दिया था। वरिष्ठ उपाध्याय, प्रवेशिका और व्यावसायिक परीक्षा के स्टूडेंट्स भी आगे की परीक्षाओं की तिथियों के ऐलान का इंतजार कर रहे हैं। वरिष्ठ उपाध्याय में 3,847, प्रवेशिका में 6,972 और व्यवसायिक परीक्षा में 42,989 स्टूडेंट्स पंजीकृत हैं।

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: