अकेले कार या साइकल चलाते समय मास्क पहनना जरूरी नहीं, इसका चालान काटना गलत है:  स्वास्थ्य मंत्रालय 


No need to wear mask; when driving alone health ministry


 

कोरोना वायरस को रोकने के लिए सरकार सख्ती से नियमों का पालन करवा रही है, लेकिन नियमों के नाम पर कुछ लोग मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। राजधानी समेत पूरे देश की पुलिस कार में बगैर मास्क के अकेले बैठे लोगों का चालान काटने लग गई है। कई राज्यों से शिकायत मिल रही है कि कार में अकेले व्यक्ति होने के बाद भी मास्क न लगाने पर पुलिस चालान काट रही है। अब केंद्र स्वास्थ्य मंत्रालय ने साफ कर दिया है। गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि अकेले बैठ कर कार चला रहे लोगों को मास्क पहनने का कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किया गया है। इसी तरह अकेले साइकिल चला रहे व्यक्ति को भी मास्क पहनना जरूरी नहीं होगा, लेकिन अगर कोई समूह में साइकल चला रहा है तो मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

 

दरअसल पुलिस इन दिनों बिना किसी दिशानिर्देश के चालान काट रहे हैं। ऐसे कई मामलों की शिकायत दिल्ली से की गई हैं। दिल्ली में जगह-जगह पुलिस के अधिकारी कार में अकेले व्यक्ति के बगैर मास्क के होने पर 500 रुपए से 1000 तक का चालान काट रहे हैं।

 

बिना किसी दिशानिर्देश के चालान काटने पर पुलिस अधिकारियों के साथ लोगों की बहस भी हो चुकी है। इसे लेकर बृहस्पतिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ मंत्रालय से यह सवाल किया था। जिनके बाद मंत्रालय ने स्पष्ट जानकारी साझा की है।

Follow Us
%d bloggers like this: