कोरोना वायरस संक्रमण काल के दौरान मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति पटरी पर लाने के लिए विभिन्न प्लांट में 24 घंटे काम हो रहा है। वहीं उत्तर प्रदेश के कानपुर के पनकी ऑक्सीजन प्लांट में शुक्रवार सुबह रिफिलिंग के दौरान ऑक्सीजन सिलेंडर फटने से एक श्रमिक की मौत हो गई और कम से कम 2 घायल हो गए।

यह भी पढ़ें : यूपी में कोरोना: अब तीन दिन रहेगा लॉकडाउन, सोमवार को भी घरों में रहना होगा कैद  

घटना की सूचना मिलते ही दादा नगर औद्योगिक क्षेत्र स्थित घटनास्थल पर पुलिस पहुंची। अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है। घायलों का इलाज कराया जा रहा है जबकि प्लांट में काम शुरू कराने का प्रयास हो रहा है। फैक्ट्री मालिक की ओर से इसकी सूचना जिला प्रशासन को दे दी गई है।

कानपुर के दादानगर इंडस्ट्रियल एरिया में पनकी आक्सीजन प्लांट में ऑक्सीजन सिलेंडर फटने से एक मजदूर की मौत हो गई जबकि तीन घायल हो गए। पनकी आक्सीजन सी-13 प्लांट से मेडिकल ऑक्सीजन फुटकर व अस्पतालों को सप्लाई की जाती है।

यह भी पढ़ें : यूपी: सीएम योगी का निर्देश, हर सीएचसी पर उपलब्ध हो 10-10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 

कोरोना संकट के चलते अभी प्लांट 24 घंटे चल रहा है। शुक्रवार तड़के मर्दनपुर निवासी मजदूर मुराद अली सिलेंडर रिफिल के काम में लगा था। मामले में फैक्ट्री मालिक ने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया। स्टैटिक मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात नायाब तहसीलदार ने प्रशासन के अधिकारियों को सूचना दे दी। सुबह छह बजे तक कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा था।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-11 को जरूरी दिशा-निर्देश दिए. इसमें ऑक्सीजन की आपूर्ति, कोविड टेस्ट, ऑक्सीजन प्लांट लगाने के साथ ही कई विषय शामिल रहे. सीएम योगी का निर्देश है कि हर सीएचसी पर 10-10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर  उपलब्ध कराए जायेंगे।

Follow Us