दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले नए रिकॉर्ड बना रहे हैं ऐसे में दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय यानी जेएनयू ( JNU ) के प्रशासन ने एक मिसाल कायम की है दरअसल जेएनयू ( JNU ) कैंपस में प्रशासन ने कोरोना मरीजों की दवा,गर्म खाना आपात स्थिति में आप आल पहुंचने को एंबुलेंस की व्यवस्था के लिए अलग-अलग प्रोफेसर की टीम 24 घंटे ऑन ड्यूटी पर तैनात कर दी है जिसके बाद कैंपस के मरीजों के लिए विशेष मोबाइल हेल्पलाइन भी जारी की गई है ताकि आपात की स्थिति में कोरोना मरीजों को लाभ मिल पाए।

यह भी पढ़ें : समीक्षा बैठक में सीएम योगी का निर्देश, छापामारी कर जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी रोकें 

क्या बोले कुलपति ?

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एवं जगदीश कुमार ने बृहस्पतिवार को मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि कोरोना मरीजों की सुविधा के लिए जेएनयू कैंपस के अंदर कुछ विशेष इंतजाम किए गए हैं विश्वविद्यालय प्रशासन ने इसकी जिम्मेदारी अनुजा और डॉक्टर सौरव शर्मा को दी है. साथ ही मरीजों की सुविधा के लिए शिक्षकों और कर्मियों के संपर्क में परिवारों का भी ध्यान रखा जा रहा है.

यह भी पढ़ें : समीक्षा बैठक में सीएम योगी का निर्देश, छापामारी कर जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी रोकें 

कोरोना वायरस संक्रमण से जूझ रहे कुछ परिवारों को खाने की भी समस्या हो रही थी इसको देखते हुए यूनिवर्सिटी की तरफ से खाने पीने की व्यवस्था भी की गई है ताकि बीमार की हालत में उन्हें पौष्टिक और गर्म खाना मिल सके वैसे भी बीमारी के दौरान होटल का खाना सेहत मन नहीं होता है इसलिए जेएनयू द्वारा किए गए यह विशेष इंतजाम मरीजों के बेहद काम आएंगे.

Follow Us