India - Worldworld

जेफ बेजोस ने पूरा किया सपना, कर्मचारियों और ग्राहकों को कहा- शुक्रिया

बता दें कि जेफ बेजोस ने अमेजॉन के सिएटल मुख्यालय के पास वॉशिंगटन में साल 2000 में ब्लू ओरिजिन की स्थापना की थी।

अमेजॉन के संस्थापक जेफ बेजोस ने आखिरकार अपना सपना पूरा ही कर लिया। जेफ ने अपने रॉकेट से अंतरिक्ष की यात्रा कर इतिहास रच दिया है। जेफ बेजोस ने इस अंतरिक्ष यात्रा की कामयाबी का श्रेय अपनी कंपनी के कर्मचारियों और ग्राहकों को दिया है। उनके लिए इस यात्रा का दिन सबसे शानदार दिन था। उन्होंने दस मिनट की उड़ान के बाद रेगिस्तान में एक कैप्सूल के जरिए वापस लौटे।

बेजोस अपने भाई, नीदरलैंड के रहने वाले 18 वर्षीय युवक और टेक्सास की रहने वाली 82 वर्षीय महिला पायलट के साथ गए थे। इस यात्रा में बेजोस के साथ अंतरिक्ष जाने वाले सबसे युवा और सबसे बुजुर्ग शख्स थे। इस उड़ान के बारे में जेफ ने कहा कि वह अमेजॉन के हरएक कर्मचारी और अमेजॉन ग्राहक को धन्यवाद देना चाहते हैं, क्योंकि इन लोगों ने इस सब के लिए भुगतान किया है। अमेजॉन के ग्राहकों के पैसों से बेजोस की अंतरिक्ष उड़ान का भुगतान किया गया।

कर्मचारियों ने थोड़ा अलग तरीके से भुगतान किया है। बता दें कि जेफ बेजोस ने अमेजॉन के सिएटल मुख्यालय के पास वॉशिंगटन में साल 2000 में ब्लू ओरिजिन की स्थापना की थी। अमेरिका के पहले अंतरिक्ष यात्री एलन बी शेपर्ड के नाम पर ब्लू ओरिजिन के न्यू शेपर्ड रॉकेट ने अपोलो 11 के चांद पर उतरने की 52वीं वर्षगांठ पर यात्रियों के साथ उड़ान भरी थी। बेजोस से नौ दिन पहले ‘वर्जिन गैलेक्टिक’ के रिचर्ड ब्रैनसन अंतरिक्ष गए थे।

रिचर्ड ब्रैनसन 11 जुलाई को अंतरिक्ष में जितनी ऊंचाई पर पहुंचे थे। उससे 10 मील (16 किलोमीटर) अधिक ऊंचाई 66 मील (106 किलोमीटर) पर ब्लू ओरिजिन का यान पहुंचा। ब्लू ओरिजिनके मुख्य कार्यकारी अधिकारी बॉब स्मिथ के मुताबिक, इस साल के अंत तक कंपनी की दो और उड़ान अंतरिक्ष के लिए होगी।

यह भी पढ़ें- दिगेन्द्र कुमार ने दिलाई थी करगिल की पहली जीत, तोलोलिंग पर फहराया था तिरंगा

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button