Jammu & Kashmir

Jammu: एक बार फिर जम्मू एयरबेस के पास दिखा ड्रोन, सुरक्षाबल सतर्क

Jammu: कश्मीर में अंत की कगार पर पहुंच चुके आतंकी संगठन अब एक बार फिर जम्मू संभाग (Jammu) को अपनी रडार पर लाने की साजिशें रच रहे हैं। अपनी इस नपाक साजिश के आतंकी संगठन सीमा पार से ड्रोन का सहारा ले रहें है।
एक बार फिर से जम्मू (Jammu) में ड्रोन देखा गया है। बुधवार रात को जम्मू एयरफोर्स स्टेशन के पास एक ड्रोन को देखा गया है। जिसके बाद सुरक्षाबल चौकने हो गए।
बता दें कि इससे पहले भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अरनिया और हीरानगर सेक्टर में भी पाकिस्तानी ड्रोन की संदिग्ध गतिविधि देखी गई थी इससे हड़कंप मच गया था। अरनिया सेक्टर में BSF के जवानों ने आसमान में लाल रंग की लाइट देखते ही फायरिंग कर दी।

ड्रोन के बारें में जानकारी देते हुए बताया कि यह पाकिस्तान का ड्रोन था, जिसे वापस खदेड़ दिया गया। वहीं कठुआ के हीरानगर सेक्टर में स्थानीय लोगों ने भी बताया कि उन्होंने ड्रोन जैसी आवाज सुनी थी ।

आसमान में पीले रंग की लाइट भी देखी। सुरक्षाबलों ने दोनों ही जगह एहतियातन तलाशी अभियान चलाया। लेकिन अभी तक कोई भी आपत्तिजनक सामग्री या सुराग हाथ नहीं लगा। मंगलवार देर रात को अरनिया सेक्टर में करीब 200 मीटर की ऊंचाई पर लाल रंग की लाइट दिखाई दी। यह लाइट पाकिस्तान की ओर ही थी।

ड्रोन के इस तरफ आने की आशंका पर BSF के जवानों ने फायरिंग की, जिसके तुरंत बाद यह लाइट वाला उपकरण पाकिस्तान की तरफ ही चला गया। उधर, हीरानगर के करोल बिद्दो इलाके में मंगलवार रात करीब 10.30 बजे स्थानीय लोगों ने आसमान में ड्रोन जैसी आवाज सुनी। सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया। आवाज कुछ देर के बाद शांत हो गई।

सूत्रों के मुताबिक BSF के जवानों ने ड्रोन होने के अंदेशे पर स्थानीय लोगों को साथ लेकर इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया। करोल मात्रयां, करोल बिद्दो, करोल कृष्णा के रिहायशी इलाकों के अलावा जंगलों को भी खंगाला गया। लेकिन कोई कामयाबी नहीं मिली।

2 जुलाई को भी अरनिया में दिखा था ड्रोन
अरनिया सेक्टर ड्रोन गतिविधि के लिहाज से बेहद संवेदनशील हो गया है। दो जुलाई को भी अरनिया सेक्टर में पाकिस्तानी ड्रोन इस तरफ घुस आया था, जिसे बीएसएफ क जवानों ने गोलियां दागकर खदेड़ दिया था।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button