Uttarakhand

उत्तराखंड की पहली महिला मुख्य सचिव बनेगी आईएएस राधा रतूड़ी….

देहरादून। उत्तराखंड(Uttarakhand)में नौकरशाही के शीर्ष पद मुख्य सचिव को लेकर कवायत शुरू हो गयी है। ऐसे में कयाश लगाए जा रहे है कि मुख्य सचिव डा एसएस संधु केंद्र में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। ऐसे में मुख्य सचिव पद पर प्रदेश में कार्यरत वरिष्ठतम आइएएस व अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की इस सर्वोच्च पद सौपे जाने की तैयारियां चल रही है। ऐसा हुआ तो राधा रतूड़ी प्रदेश की पहली महिला मुख्य सचिव होंगी।

ये भी पढ़े :- केदारनाथ यात्रा में नहीं रुक रहा बेजुबानों पर अत्याचार का सिलसिला, अब तक 46 दिनों 175 घोड़ा – खच्चर की हुई मौत

अब तक 1988 बैच के आइएएस डा एसएस संधु संभाल रहे थे पदभार 

केंद्र में प्रतिनियुक्ति में कार्यरत 1988 बैच के आइएएस डा एसएस संधु ने बीते वर्ष पांच जुलाई को मुख्य सचिव का पदभार संभाला था। तकरीबन सालभर इस पद पर काम करने के बाद उनके दोबारा केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर जाने की चर्चाएं तेज हो गई हैं। संधु अपनी कार्यप्रणाली के कारण केंद्र की मोदी सरकार में भी महत्वपूर्ण पदों पर रहे हैं। माना जा रहा है कि केंद्र सरकार उन्हें रक्षा सचिव या अन्य समकक्ष महत्वपूर्ण पद का दायित्व सौंप सकती है।

ये भी पढ़े :- दो दिवसीय दौरे पर दिल्ली जाएगें सीएम धामी, जीएसटी क्षतिपूर्ति का रखेंगे प्रस्ताव

 मुख्य सचिव का पदभार संभाल सकती है राधा रतूड़ी

डा संधु के बाद प्रदेश में मुख्य सचिव का पद 1988 बैच की ही आइएएस अधिकारी राधा रतूड़ी को सौंपा जा सकता है। उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार अभी इस संबंध में अंतिम निर्णय नहीं हुआ, लेकिन मंथन किया जा रहा है। राज्य सरकार अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन की केंद्र में प्रतिनियुक्ति को दी गई अनापत्ति वापस ले चुकी है। ऐसे में चर्चा ये भी है कि उन्हें भी महत्वपूर्ण दायित्व दिया जा सकता है।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: