gujrat cm vijay rupani announces a scheme to give interest free loans for women's group


 

गुजरात सरकार ने महिलाओं को ब्याज मुक्त कर्ज मुहैया करवाने के लिए एक विशेष स्कीम की घोषणा की है। इसका मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है। राज्य में पहली बार मुख्यमंत्री महिला कल्याण योजना का प्रारंभ होगा। मुख्यमंत्री ने  इस योजना के लिए 175 करोड़ का बजट आवंटित किया है। स्कीम के तहत हर 10 स्दस्यीय महिला स्व सहायता समूह को (एचएसजी) को एक लाख रुपए का कर्ज दिया जाएगा।

 

ये कंपनियां करेंगी योगदान 

सरकार के मुताबिक ग्रामीण और शहरी इलाकों में 50-50 हजार एचएसजी है। इस स्कीम के तहत इन एक लाख एचएसजी को कर्ज उपलब्ध कराया जाएगा। राज्य के ग्रामीण इलाकों में स्कीम गुजरात लाइवलीहुड प्रमोशन कंपनी लागू करेगी। जबकि शहरी इलाकों में इसे गुजरात अर्बन लाइवलीहुड मिशन लागू करेगा। गुजरात सरकार के मुताबिक, इस स्कीम से महिलाओं को अपने घर से छोटा कारोबार शुरू करने में मदद मिलेगी।

 

प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर मातृशक्ति को सौगात

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत बनाना जो प्रधानमंत्री का संकल्प हैं, उसे साकार करने में गुजरात की महिलाएं सबसे आगे रहेंगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन यानी 17 सितंबर को मुख्यमंत्री महिला उत्कर्ष योजना की राज्य की मातृशक्ति को सौगात मिलेगी। कोरोना के बाद बदली आर्थिक-सामाजिक जीवनशैली में महिला शक्ति, माता-बहनों की आत्मनिर्भरता का नया मार्ग खुलेगा। राज्य की एक लाख महिला समूह की दस लाख महिलाओं को मुख्यमंत्री महिला उत्कर्ष योजना का लाभ मिलेगा। एक हजार करोड़ रुपए तक ऋण हिला समूहों को मिलेगा।

Follow Us