प्रतापगढ़ जनपद में आसपुर देवसरा थाना क्षेत्र के गौसपुर गांव में चुनाव की रंजिश में प्रधान प्रत्याशी के समर्थक विनय सिंह (40) को विपक्षी ने मार गोली दी। आरोप है कि पराजित प्रधान प्रत्याशी ने ही गोली मारी। गंभीर रूप से घायल युवक को जिला अस्पताल प्रतापगढ़ लाया गया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सक ने उसे एसआरएन हास्पिटल प्रयागराज रेफर कर दिया। उधर, पुलिस ने हमलावरों की तलाश में उनके घर पर दबिश दी, लेकिन हमलावर घर से फरार हो गए थे।

यह भी पढ़ें : यूपी : लखनऊ में दवाओं की कालाबाजारी में अब तक 87 लोग गिरफ्तार 

इस बीच गौसपुर गांव के रहने वाले वंशराज सिंह के घर पर सोमवार की शाम तिलकोत्सव था। विनय तिलकोत्सव में शामिल होने गए थे। आरोप है कि वहीं पर दिनेश मिश्र और उनके साथ मौजूद चार लोग विनय से विवाद करने लगे। कहासुनी के बीच उन लोगों में किसी व्यक्ति ने विनय को गोली मार दी। गोली पेट में लगी तो विनय गिर पड़े।

यह भी पढ़े : यूपी में कोरोना के चलते अंतरराज्यीय बस सेवा बंद 

ग्रामीणों के अनुसार, हार की खुन्नस में दिनेश, समर्थकों के साथ मारपीट पर उतारू हो गए। इसी बीच नवनिर्वाचित प्रधान विष्णु तिवारी के समर्थक बैंक कर्मचारी विनय सिंह (30) को दौड़ाकर गोली मार दी गई। गोली चलने से हड़कंप मच गया। लोग जान बचाकर भागने लगे। घायल विनय को जिला अस्पताल लाया गया, जहां डाक्टरों ने उनकी हालत नाजुक देखकर लखनऊ के लिए रेफर कर दिया। एसपी आकाश तोमर ने बताया कि आरोपी की तलाश में दबिश दी जा रही है। मौके पर कानून व्यवस्था की स्थित सामान्य है।

Follow Us