India Rise Special

बुजुर्ग दंपत्ति अपनी पेंशन से भर रहे सड़कों के गड्ढे, इस तरह हुई शुरूआत

गंगाधर तिलक ने कहा कि गड्ढों के कारण सड़कों पर कई दुर्घटनाएं देखने के बाद उन्होंने इसके बारे में कुछ करने और इसका हल निकालने का फैसला किया

दुनिया में हर किस्म के लोग होते हैं। कुछ लोगों की मदद करने की कोशिश भी नहीं करते। वहीं कुछ अपनी पूरी जिंदगी दूसरों की भलाई के काम में लगे रहते हैं। ऐसे ही एक बुजुर्ग दंपत्ति हैं, जो लोगों की जान बचाने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं। 73 साल के गंगाधर तिलक कटनम रोड डॉक्टर के नाम से मशहूर हैं। हैदराबाद में पिछले 11 साल से बुजुर्ग दंपति सड़क के गड्ढों को भर रहे हैं।

अक्सर कई लोगों की जान सड़क पर होने वाले गड्ढों की वजह से कई हादसे होते रहते हैं। गंगाधर तिलक कटनम और उनकी पत्नी वेंकटेश्वरी कटनम दोनों मिलकर लोगों की जान बचा रहे हैं। रोड डॉक्टर अपनी पेंशन के रुपए से यह काम कर रहे हैं। इससे लोगों को गड्ढों के कारण होने वाली दुर्घटनाओं से बचाया जा रहा है।

गंगाधर अपनी पत्नी वेंकटेश्वरी कटनम के साथ एक कार में सड़कों पर निकलते और जहां कहीं भी उन्हें कोई गड्ढा दिखता है। वह उसे भर देते हैं। अपनी गाड़ी को भी वह ‘पोथोल एम्बुलेंस’ यानी गड्ढे भरने वाली गाड़ी कहते हैं।

 बुजुर्ग दंपत्ति ने ऐसे की शुरुआत

गंगाधर तिलक कटनम ने कहा कि गड्ढों के कारण सड़कों पर कई दुर्घटनाएं देखने के बाद उन्होंने इसके बारे में कुछ करने और इसका हल निकालने का फैसला किया। शुरू में उन्होंने पुलिस और नगर पालिका के अधिकारियों के साथ इस मुद्दे के बारे में शिकायत करने की कोशिश की। लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ। इसके बाद उन्होंने इन गड्ढों को खुद भरने का फैसला किया है।

बता दें कि उन्होंने अब तक 2,000 से अधिक गड्ढों को भरा है। इस पर लगभग 40 लाख रुपये खर्च किए। गंगाधर तिलक लगभग 35 सालों तक भारतीय रेलवे में एक कर्मचारी के रूप में काम किया। अपने रिटायरमेंट के बाद तिलक एक सॉफ्टवेयर कंपनी में सॉफ्टवेयर डिजाइन इंजीनियर के रूप में काम करने के लिए हैदराबाद आ गए। तब से शहर भर में गड्ढों को भरने का काम कर रहे हैं।

गंगाधर तिलक ने कहा कि उनके कार्यों को देखते हुए, सरकारी अधिकारियों ने भी उनकी मदद के लिए आगे कदम बढ़ाया है। वह अपने काम को बढ़ाने के उद्देश्य से ‘श्रमधन’ नामक एक संगठन चलाते हैं। वह कभी भी किसी से पैसा/दान नहीं मांगूंगा। लोग स्वेच्छा से गड्ढों को भरने में मदद के लिए कदम बढ़ाएंगे।

यह भी पढ़ें : मंत्रिमंडल समिति में केंद्र सरकार ने किए बदलाव, इन नए मंत्रियों की एंट्री

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button