साइंस एंड टेक्नोलॉजी के साथ-साथ अब क्रिएटिव फील्ड में भी काफी बदलाव हुए हैं। अब 12 वीं के बाद आप क्रिएटिव फील्ड में भी अपना बेहतरीन करियर बना सकते हैं। बढ़ते फैशन की रेस में कई केटेगरी बन गईं हैं। जिसमें स्टूडेंट्स आपका करियर बनाने का अवसर प्राप्त कर सकते हैं। जर्मनी की स्टेटिसटा वेबसाइट के मुताबिक भारत में फैशन और फुटवियर सेगमेंट में  वर्ष 2022 में 16067 मिलियन डॉलर का व्यापार हो सकता है, जबकि साल 2019 में यह 9434 मिलियन डॉलर का व्यापार रहा था।

देश में कई ऐसे बड़े नाम हैं जिन्होंने क्रिएटिव फील्ड चुनी थी अब वो एक बड़े व्यापार में उतरे हैं। खासतौर पर मनीष मल्होत्रा, गौरी ख़ान, रितु कुमार क्रिएटिव फील्ड में आगे बढ़ एक जाना माना ब्रांड बन गए हैं।

 

किसमें बना सकते हैं अपना करियर

फुटवेयर डिजाइनिंग 

footwear designing

फुटवेयर डिजाइनिंग का कोर्स 12 वीं के बाद किया का सकता है। आप किसी भी स्ट्रीम में क्यों न हो इस कोर्स को कर सकते हैं। इस कोर्स की एक से लेकर तीन साल तक कि अवधि है। भारत में स्टाइलिश फुटवेअर का कारोबार बढ़ता जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय कंपनियां भी यहां प्रोडक्शन और एक्सपोर्ट ट्रेड का हाथ आजमा रही हैं।

आभूषण डिजाइनिंग 

आजकल फैशन के दौर में ज्वैलरी में भी कई बदलाव हुए हैं। अब तो खास तरह की ज्वैलरी देखी जा रही है। इस कोर्स को 12 वीं के बाद और ग्रैजुएशन के बाद भी किया जा सकता है। अहमदाबाद, जयपुर, मुंबई, दिल्ली, नोएडा में कई बड़े इंस्टिट्यूट हैं जो इस कोर्स को करवाने के बाद प्लेसमेंट भी उपलब्ध करवाते हैं।

 

इंटीरियर डिजाइनिंग

interior designing

इस कोर्स को 10 वीं और 12वीं के बाद किया जा सकता है। इस कोर्स को करने के लिए आपके न्यूनतम 50 प्रतिशत तक अंक होने चाहिए। इसमें बैचलर इन डिजाइनिंग, बीए इन इंटीरियर आर्किटेक्चर एंड डिजाइनिंग पीजी डिप्लोमा इन डिजाइनिंग में आपका करियर बना सकते हैं।

Follow Us