उत्तर प्रदेश

झांसी में कोरोना का तांडव, टूटे सारे रिकॉर्ड, 1048 नए केस आए सामने 

कोरोना वायरस ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। रविवार को सीएमओ समेत 1048 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जबकि, पांच मरीजों की इलाज के दौरान मौत हो गई है। अब झांसी में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 22485 पहुंच गई है। झांसी में रविवार को 4029 सैंपलों की जांच की गई। इसमें आरटीपीसीआर मशीन से 1856, ट्रूनेट से 34 और एंटीजन किट से 2139 नमूने जांचे गए। जांचों में मुख्य चिकित्सा अधिकारी और सीएमओ  कार्यालय के चिकित्सक, मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर और जेआर समेत 1048 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसके अलावा पांच की मौत हो गई। 

यह भी पढ़ें : यूपी : क्या बुलंदशहर में लगा है एक हफ्ते का लॉकडाउन? ये है सच्चाई 

आइसोलेशन कोच में भर्ती हो सकेंगे कोरोना संक्रमित
महानगर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते सरकारी व निजी अस्पतालों में बेड फुल हो गए हैं। अस्पताल में बेड न मिलने से परेशान कोरोना संक्रमित मरीजों को अब रेलवे के आइसोलेशन कोच में भर्ती किया जा सकेगा। रेलवे ने 10 आइसोलेशन कोच को तैयार कर झांसी स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर छह पर खड़ा कर दिया है। कोच में ऑक्सीजन का पूरा इंतजाम किया गया है। जिला प्रशासन की संस्तुति के आधार पर आइसोलेशन कोच में मरीजों को भर्ती किया जाएगा। वहीं, 10 अतिरिक्त आइसोलेशन कोचों को ग्वालियर स्टेशन पर भेजा गया है।

यह भी पढ़ें : यूपी पंचायत चुनाव : तीसरे चरण के लिए मतदान जारी 

ऑक्सीजन न मिलने से थम गए एंबुलेंस के पहिए 
महानगर में ऑक्सीजन का टोटा निजी एंबुलेंस पर भी भारी पड़ रहा है। हाल ये है कि रविवार को एंबुलेंस चालकों को सप्लायरों से ऑक्सीजन नहीं मिल सकी। वह प्लांट के बाहर घंटों खड़े रहे। ऐसे में गंभीर मरीजों को बिना ऑक्सीजन के सपोर्ट के ये कैसे दूसरे शहरों में ले जा सकेंगे। कोरोना काल में गंभीर मरीजों की तादाद एकदम से बढ़ने की वजह से ऑक्सीजन की खपत में तेजी से उछाल आया है। ऐसे में ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है।

Follow Us

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button