India Rise Special

स्वर्ग का चावल धरती पर आया, चीन ने अंतरिक्ष से है मंगवाया

चीन ने पिछले साल नंबर में अपने चंद्रयान के साथ धान के बीज भी अंतरिक्ष में भेजे थे। अब स्पेसशिप के जरिए 1500 धान के बीज धरती पर आए हैं।

रिकॉर्ड बनाने में चीन बाकी देशों से काफी आगे है। साथ ही चीन नई-नई चीजों की खोज भी करता रहता है। ऐसी ही एक खोज को लेकर चीन इन दिनों सुर्खियों बटोर रहा है। धरती पर रहकर तो हर किसी ने धान की फसल उगाई है, लेकिन चीन ने अंतरिक्ष में धान पैदा कर सबको हैरान कर दिया है। चीन ने अंतरिक्ष में पैदा किए गए धान को स्पेस राइस (अंतरिक्ष चावल) नाम दिया है। सोशल मीडिया पर लोग इसे स्वर्ग का चावल भी कह रहे हैं।

स्वर्ग का चावल धरती पर

चीन के कृषि विश्वविद्यालय के अंतरिक्ष प्रजनन अनुसंधान केंद्र के उप निदेशक गुओ ताओ के मुताबिक, सबसे बेहतर बीज प्रयोगशालाओं में तैयार होंगे। इसके बाद इन्हें खेतों में लगाया जाएगा। इन बीजों को दक्षिण चीन कृषि विश्वविद्यालय परिसर में बोया जाएगा। चीन ने पिछले साल नंबर में अपने चंद्रयान के साथ धान के बीज भी अंतरिक्ष में भेजे थे। अब स्पेसशिप के जरिए 1500 धान के बीज धरती पर आए हैं।

इनका वजन 40 ग्राम है। इनकी लंबाई अब करीब 1 सेंटीमीटर है। स्पेस में उगाई गई स्पेस राइस की पहली फसल को बीज के रूप में धरती पर लाया गया है। स्पेस में ये बीज ब्रह्मांडीय विकिरण और शून्य गुरुत्वाकर्षण के संपर्क में रहे। बता दें कि अंतरिक्ष के वातावरण में कुछ समय तक रहने के बाद बीज में कई तरह के परिवर्तन होते हैं। इन बीजों को वापस लाकर धरती पर बोने से ज्यादा पैदावार होती है।

खबरों के अनुसार चीन अबतक 200 से ज्यादा फसलों के साथ इस तरह के प्रयोग कर चुका है। न केवल धान बल्कि दूसरी फसलों के साथ भी इस तरह के प्रयोग कर चुका है। चीन ये प्रयोग साल 1987 से कर रहा है।

यह भी पढ़ें- केंद्र सरकार पर ट्वीट कर राहुल निकाल रहे अपनी भड़ास, कहा- पलभर में सब मिटाया

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button