India - Worldworld

चीन ने पाकिस्तान के लिए एलओसी के पास बनाया बंकर, जानिए क्या है मामला 

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को चेतावनी दी है कि एक चीनी निर्माण कंपनी ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में अपना कार्यालय खोल दिया है और नियंत्रण रेखा के पास मुजफ्फराबाद और अथामुकम में निर्माण कर रही है।

चीन एक तरफ भारत से एलएसी विवाद को सुलझाने के लिए राजनयिक-सैन्य कमांडर स्तर की वार्ता जारी रखने को कह रहा है। वहीं दूसरी तरफ भारत पर हमला करने के लिए पाकिस्तान का इस्तेमाल कर रहा है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को चेतावनी दी है कि एक चीनी निर्माण कंपनी ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में अपना कार्यालय खोल दिया है और नियंत्रण रेखा के पास मुजफ्फराबाद और अथामुकम में निर्माण कर रही है।

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक चीनी कंपनी मई से यहां बने बंकरों की हालत में सुधार कर रही है। पहले भी ऐसी खबरें थीं कि पाकिस्तान डोकलाम से सटे इलाके में हाईवे बना रहा है। दिलचस्प बात यह है कि चीन ने भारतीय सीमा के पास पीएचएल-16 मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर का परीक्षण किया। सैन्य विशेषज्ञों को डर है कि भारत ने रूस से प्राप्त एस-400 मिसाइल प्रणाली के जवाब में यह परीक्षण किया है। वह लद्दाख से सटे अपने इलाके में तैनात होंगे।

Also read – UP: पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर भीषण सड़क हादसा, 8 की मौत

यह क्षेत्र पीओके की नीलम घाटी से सटे खेल सेक्टर में पाकिस्तानी सेना के 32वें डिवीजन के अंतर्गत आता है। बेशक, नियंत्रण रेखा के पास पीओके में चीनी बंकर भारतीय सुरक्षा के लिए चुनौती बन सकते हैं। इससे पहले भी चीन ने राजस्थान में बीकानेर से सटे पाकिस्तान सीमा पर अत्याधुनिक एयरबेस बनाया था।

इसके साथ ही पाकिस्तानी सीमा के पास प्रबलित पत्थर से बने 300 से अधिक बंकर बनाए गए थे। दिलचस्प बात यह है कि चीन ने हमेशा भारतीय सीमा से लगे पाकिस्तानी क्षेत्रों में निर्माण को चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे की सुरक्षा से जोड़ा है। उनका रटना बयान है कि सीपीईसी की सुरक्षा के लिए निर्माण कार्य चल रहा है, जिसे पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी और विद्रोही समूहों से खतरा है।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: