कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ताओं और 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। वहीं, एक मई से 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में प्रथम चरण में अंत्योदय परिवार के लोगों का टीकाकरण प्रारंभ हो गया है। भारत सरकार के अधिकारियों द्वारा दिए गए प्रजेन्टेशन और मीडिया ब्रीफिंग के अनुसार स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के टीकाकरण के मामले में छत्तीसगढ राज्य़ पूरे देश में दूसरे स्थान पर है।

यह भी पढ़ें : यूपी : सीतापुर जेल में बंद आजम खां की तबीयत बिगड़ी 

वहीं, 45 साल से अधिक आयु के लोगों को कोविड-19 वैक्सीन के प्रथम डोज देने में छत्तीसगढ़ पूरे देश में चौथे नंबर पर है। इसी तरह अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ताओं के टीकाकरण के मामले में छत्तीसगढ़ देश में छठवें नंबर पर है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार 30 अप्रैल 2021 तक छत्तीसगढ़ में तीन लाख (88 प्रतिशत) स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रथम डोज तथा 2.09 लाख (62 प्रतिशत) स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को द्वितीय डोज दी गई।

इसी तरह 2.76 लाख (94 प्रतिशत) अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता को प्रथम डोज तथा 1.65 लाख (56 प्रतिशत) अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता को द्वितीय डोज दी गई। कोविड टीकाकरण के तहत 45 वर्ष से अधिक 42.76 लाख (73 प्रतिशत) नागरिकों को प्रथम डोज एवं 3.43 लाख (6 प्रतिशत) नागरिकों को द्वितीय डोज दी गई।

यह भी पढ़ें : लखनऊ में 3125 नए केस आए सामने, 34 की गई जान  

स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के टीकाकरण के मामले में पूरे देश में दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 97.73 प्रतिशत के साथ छत्तीसगढ़ राज्य का है। वर्तमान में छत्तीसगढ़ राज्य में पंजीकृत कुल 4894 सेशन साईट में टीकाकरण किया जा रहा है एवं राज्य में 6823 प्रशिक्षित वैक्सीनेटर उपलब्ध हैं। दो अप्रैल 2021 को सर्वाधिक 3.26 लाख व्यक्तियों का तथा तीन अप्रैल 2021 को 2.92 लाख व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया।

Follow Us