ChhattisgarhCOVID19

Chhattisgarh: राज्य में 102 महतारी एक्सप्रेस बनी मरीजों के लिए वरदान

Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ राज्य में मातृत्व सुरक्षा एवं शिशु सुरक्षा के उद्देश्य से शुरू की गई महतारी एक्सप्रेस सुविधा राज्य के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के लिए वरदान साबित हो रही है।

एक वर्ष में 6.48 लाख से अधिक मरीजों समेत 6,510 कोरोना के गंभीर रोगितयों को अस्पताल पहुंचाया गया। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, 102 एंबुलेंस के जरिए 6,48,812 लोगों की सेवाओं में प्रसव पूर्व जांच के लिए 1,59,087, प्रसव के लिए हास्पिटल पहुंचे 1,58,270, प्रसव के बाद घर वापसी 2,49,390 महिलाओं की इस सेवा के जरिये की गई।

वहीं, बड़े अस्पताल में 38,660 मामले रेफर किए गए, 0-1 वर्ष के बच्चे से संबंधित- 36,895 और 6,510 कोविड-19 मरीजों को सेवाएं दी गईं। राज्य में अगस्त 2013 में मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए बिलासपुर से 21 एंबुलेंस के साथ 102 महतारी एक्सप्रेस की शुरुआत की गई थी। फिलहाल में 324 एंबुलेंस सेवा प्रदेश में 24 घंटे उपलब्ध हैं।

102 टोल फ्री नंबर पर काल करके किसी भी तरह की प्रसव संबंधी सहायता, शून्य से एक वर्ष तक के बीमार नवजात शिशु को स्वास्थ्य सहायता और नसबंदी की सेवा का लाभ भी लिया जा सकता है। आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए यह सेवा किसी वरदान से कम नहीं है।

इन्हें मिली सेवाएं

6,48,812 महिलाओं को सेवाएं अप्रैल 2020 से मार्च 2021 तक
1,59,087 महिलाओं को प्रसव पूर्व जांच के लिए

1,58,270 महिलाओं को प्रसव के लिए पहुंचाए अस्पताल

2,49,390 महिलाओं की प्रसव के बाद घर वापसी

38,660 महिलाओं को बड़े अस्पताल रेफर किया

36,895 शून्य से एक वर्ष के बच्चों को अस्प्ताल पहुंचाया

Chhattisgarh: 2023 विधानसभा चुनाव में अगले CM के चेहरे पर चढ़ा सियासी पारा

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button