राशन को लेकर केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, जून माह से नहीं होगा मुफ्त गेंहू वितरण


उत्तर प्रदेश : केंद्र सरकार (Central government’) ने पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना (PM Garib Kalyan Anna Yojana) के तहत आवंटित होने वाले गेहूं के कोटे को कम कर दिया है। इससे उप्र में इस योजना के तहत बांटा जा रहा गेहूं वितरित नहीं होगा। इसके बदले कार्ड धारकों को चावल मिलेगा।

ये भी पढ़े :- अमृतसर के गुरुनानक देव अस्पताल में लगी भीषण आग, खिड़कियाँ तोडकर मरीजों को निकाला जा रहा बाहर

प्रदेश में यह व्यवस्था जून महीने से लागू करने की पूरी तैयारी की जा रही है। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत निःशुल्क राशन बांटा जा रहा है। इसमें हर एक पात्र गृहस्थी कार्ड धारक को प्रति यूनिट 3 किलो गेहूं और 2 किलो चावल मुफ्त में दिया जाता है। प्रदेश में 15 करोड़ से ज्यादा लोगों को मुफ्त राशन मिल रहा है। लेकिन अब केंद्र सरकार ने इस योजना में शामिल विभिन्न राज्यों का गेहूं का कोटा बेहद कम या बंद करके इसके बदले चावल का कोटा बढ़ाने का मन बना रही है। भले ही केंद्र सरकार की योजना में गेहूं का कोटा कम या बंद हो जाए लेकिन प्रदेश सरकार की योजना में गेहूं का वितरण जारी रहेगा। इसमें भी प्रति यूनिट तीन किलो गेहूं तथा दो किलो चावल का वितरण होता है।

ये भी पढ़े :- त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देव ने दिया इस्तीफा

माना जा रहा है कि इस बार देश में गेहूं का उत्पादन कम हुआ है। साथ ही केंद्र सरकार गेहूं का निर्यात करने की भी तैयारी कर रही है। चूंकि इस समय वैश्विक स्तर पर गेहूं की मांग एवं दाम दोनों ही बेहतर चल रहे हैं। ऐसे में यूपी में तैयारी यह है कि जून माह से गेहूं के बदले कार्ड धारकों को चावल ही दिया जाएगा। सरकारी क्रय केंद्रों पर इस बार गेहूं की खरीद कम होना भी इसका एक अहम कारण माना जा रहा है। यूपी की ही बात करें तो यहां 5665 क्रय केंद्र खोले गए हैं। शुक्रवार तक इन पर मात्र 2.33 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद ही हो पाई थी जबकि 60 लाख मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य रखा गया है। पिछले साल भी 58 लाख मीट्रिक टन की खरीद हुई थी पर इस बार लक्ष्य काफी दूर नजर आ रहा है।

Follow Us

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: