Indinomics

BBNL और BSNL के विलय को कैबिनेट ने 1.64 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की दी मंजूरी

कैबिनेट ने BSNL को पुनर्जीवित करने के लिए 1.64 लाख करोड़ रुपये के पुनरुद्धार पैकेज को मंजूरी दी।

Business Desk: सरकारी टेलीकॉम कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) को लेकर बुधवार को एक बड़ी खबर सामने आई है। कैबिनेट ने BSNL को पुनर्जीवित करने के लिए 1.64 लाख करोड़ रुपये के पुनरुद्धार पैकेज को मंजूरी दी। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कैबिनेट बैठक के फैसलों की जानकारी दी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसके साथ ही कैबिनेट ने भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) और भारत ब्रॉडबैंड नेटवर्क लिमिटेड (BBNL) के विलय को मंजूरी दी।

Also read – अच्छी ख़बर! एक करोड़ छात्रों के सिलेबस को लेकर यूपी बोर्ड ने लिया ये फैसला

अश्विनी वैष्णव ने कहा कि सरकार 4जी सेवाओं के विस्तार में मदद के लिए BSNL को स्पेक्ट्रम आवंटित करेगी। सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी के 33,000 करोड़ रुपये के वैधानिक कर्ज को इक्विटी में बदला जाएगा। साथ ही कंपनी 33,000 करोड़ रुपये के बैंक ऋण चुकाने के लिए बांड जारी करेगी। कंपनी के नेटवर्क के उन्नयन के लिए आज CAPEX को मंजूरी दे दी गई है।

BBNL का ऑप्टिकल फाइबर BSNL का होगा

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस पैकेज से टेल्को को 4जी में अपग्रेड करने में मदद मिलेगी. वहीं, BSNL और BBNL के विलय से भी संयुक्त कंपनी मजबूत होगी। इस विलय के साथ, BSNL के पास अब पूरे देश में फैले BBNL के 5.67 लाख किलोमीटर ऑप्टिकल फाइबर का पूर्ण नियंत्रण होगा।

विलय से होगा बड़ा फायदा

BSNL के पास 6.80 लाख किमी से अधिक का ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क है। वहीं, BBNL ने देश की 1.85 लाख ग्राम पंचायतों में 5.67 लाख किमी ऑप्टिकल फाइबर बिछाया है। यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड (यूएसओएफ) के माध्यम से बीएसएलएन को BBNL द्वारा बिछाए गए फाइबर का नियंत्रण मिलेगा। फंड जुटाने के लिए सरकार अगले तीन साल में BSNL के लिए 23,000 करोड़ रुपये के बॉन्ड जारी करेगी। वहीं, सरकार एमटीएनएल के लिए 2 साल में 17,500 करोड़ रुपये के बॉन्ड जारी करेगी।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: