Gadgets & Technology

भारत बनेगा आत्मनिर्भर, FAU-G गेम के रेवेन्यू का 20 फीसदी हिस्सा भारत के वीर ट्रस्ट को डोनेट किया जाएगा

the india rise news technology


भारत सरकार ने सबसे पॉपुलर ऑनलाइन मल्टीप्लेयर बैटलफील्ड PlayerUnknown’s Battlegrounds PUB-G को बैन करने के बाद अब अक्षय कुमार स्वदेशी मल्टीप्लेयर गेम FAU- G को लॉन्च करने की घोषणा की है। अक्षय कुमार ने शुक्रवार को ट्वीट के इस बारे में जानकारी दी है।

 

वीर ट्रस्ट को देंगे रेवेन्यू का हिस्सा

अक्षय कुमार ने लिखा कि पीएम मोदी के आत्मनिर्भर मूवमेंट को सपोर्ट करते हुए इस एक्शन गेम को पेश करते हुए गर्व हो रहा है। निर्भीक और एकतापूर्ण गार्ड्स फौजी (Fearless And United Guards – FAU -G) अक्षय कुमार ने आगे लिखा कि इससे मनोरंजन के साथ- साथ लोग जवानों के बलिदान के बारे में भी सीखेंगे। इस मोबाइल गेम से मिलने वाला रेवेन्यू का 20 फीसदी हिस्सा भारत के वीर ट्रस्ट को डोनेट किया जाएगा।

 

ट्विटर पर कर रहा है ट्रेंड

अक्षय कुमार के लॉन्च करने के बाद से ट्विटर पर यह टॉप पर ट्रेंड कर रहा है। फैजी गेम को विशाल गोंदाल के इंडिया गेम्स और बैंगलुरू के एनकोर गेम ने मिलकर तैयार किया है।

 

जानें अक्षय के नए शो के बारे में

अक्षय कुमार के वर्क फ्रंट की बात करें तो वह अपनी फिल्म बेल बॉटम की शूटिंग में बिजी हैं। इसी फिल्म की शूटिंग के लिए वे ब्रिटेन गए हैं। इस फिल्म में अक्षय कुमार के अपोजिट वाणी कपूर हैं। इनके साथ ही अक्षय Man vs Wild Bear Grylls के साथ नए शो Into the Wild में नजर आएंगे।

 

लोकप्रिय गेम PubG के बैन होने का क्या कारण था ? 

सुरक्षा का दिया हवाला

मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रानिल्स एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ने आईटी एक्ट सेक्शन 69A के तहत इन मोबाइल एप्स को बैन किया है। सरकार के मुताबिक यह एप भारत की सम्प्रभुता रक्षा और पब्लिक ऑर्डर के खिलाफ गतिविधियों में शामिल थे।

 

डेटा चोरी की बात आई सामने

मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि एंड्रॉयड और ios प्लेटफॉर्म पर कुछ ऐसे एप्स हैं जो यूजर का डेटा चोरी कर रहे हैं। वो यूजर के डेटा को देश से बाहर अपने सर्वर तक अवैध रूप से पहुंचा रही है।

 

अब तक 224 एप्स पर बैन

भारत – चीन सीमा विवाद के बाद भारत एक के बाद एक बिना हथियारों के सीधे तौर पर चीन पर हमला कर रहा है। जून के आखिर में भारत ने Tiktok समेत 59 चीनी एप्स पर बैन लगया था। इसके बाद जुलाई में 47 चीनी एप्स को बैन किया था।  अब तक भारत कुछ 224 चीनी एप्स पर बैन लगा चुका है।

Follow Us
Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: