भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिदांस दास ने शुक्रवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष 2020-21 में GDP 9.5 फीसदी संकुचित हो सकती है. इसके अलावा उन्होंने बताया कि मौद्रिक नीति समिति (MPC) ने पॉलिसी रेपो रेट को बिना बदलाव के 4 फीसदी रखने के लिए सर्वसम्मति से वोट किया है.

दास ने कहा कि मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी रेट और बैंक रेट बिना बदलाव के 4.2 फीसदी है और रिवर्स रेपो रेट (3.35% ) में भी कोई बदलाव नहीं हुआ है.

RBI गवर्नर ने अर्थव्यवस्था में सुधार के लक्षणों का जिक्र करते हुए कहा कि चालू वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में पॉजिटिव ग्रोथ देखने को मिल सकती है.

उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार के लक्षण दिखने लगे हैं और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सबसे ज्यादा मजबूती है.

दास ने कहा कि खरीफ फसलों का रकबा बढ़ा है और रबी फसलों का भी आउटलुक अच्छा है जिससे खाद्यान्नों के उत्पादन में नया रिकॉर्ड बन सकता है.

Follow Us