Uncategorized

घर में रहकर ऐसे करें NEET Exam की तैयारी

कोविड-19 के कारण शैक्षणिक संस्‍थान और कोचिंग सेंटर्स बंद हैं. ऐसे में छात्र घर में रहकर ही NEET की तैयारी कैसे कर सकते हैं। पहली बार में ही नीट परीक्षा क्रैक करें. कोरोना महामारी के कारण देश और दुनियाभर के शैक्षणिक संस्‍थान बंद हैं. इसमें उन छात्रों को खासा परेशानी का सामना करना पढ़ रहा है, जो प्रतियोगी परीक्षाओं और नीट जैसी प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं. हम यहां ऐसे ही छात्रों के लिये टिप्‍स लेकर आए हैं. अगर आप नीट परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो परीक्षा क्रैक करने में ये टिप्‍स काम आ सकते हैं.

NEET परीक्षा देश के की सबसे मुश्‍क‍िल परीक्षाओं में से एक है. इसके आधार पर ही यह तय होता है कि भारत के किसी भी मेडिकल कॉलेज में पढ़ने के लिये छात्र योग्‍य है नहीं. इसे वार्ष में एक बार आयोजित किया जाता है. और इसमें अच्‍छा रैंक हासिल करने के लिये छात्र करीब दो साल तैयारी करते हैं.

कोचिंग के बगैर NEET की तैयारी करना आसान नहीं है और ऐसा करने के लिये छात्रों को कड़ी मेहनत और धैर्य की आवश्‍यकता होगी. जिन छात्रों ने नीट परीक्षा की तैयारी के लिये कोचिंग क्‍लास में दाखिला लिया था, वह अब ऑनलाइन कक्षाओं पर शिफ्ट हो गए हैं. अगर आप, NEET की ऑनलाइन तैयारी
कर रहे हैं तो ये टिप्‍स काम आ सकते हैं.

1. अगर आप ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं तो इस बात को लेकर सतर्क रहें कि आप ऑनलाइन सिर्फ पढ़ाई ही करें. सोशल मीडिया से दूर रहें. कॉल या मैसेज से भी दूरी बनाएं. इससे आपका ध्‍यान भंग नहीं होगा और आप जल्‍दी समझ पाएंगे.

2. ऑनलाइन पढ़ाई करते हुए सिर्फ प्रामाणिक अध्ययन सामग्री और पुस्तकों से ही मदद लें. इसके लिये विभिन्न प्रामाणिक साइटों की तलाश करें. जैसे कि
BYJU, मेरिटनेशन ( Meritnation), एक्‍स्‍ट्रामार्क्‍स (Extramarks) और कई अन्‍य सरकारी आधिकारिक वेबसाइट्स की मदद ले सकते हैं.

3. NEET की तैयारी में मॉक टेस्‍ट का अहम योगदान होता है. इसलिये ऑनलाइन मौजूद मॉक टेस्‍ट (mock test) जरूर दें.

4. ऑनलाइन पढ़ाई करते हुए भी आप जरूरी प्‍वाइंट्स को नोट करना ना भूलें. आपनी नोटबुक में जरूरी प्‍वाइंट्स लिखें, इससे आपको याद भी रहेगा और
बाद में रिवीजन करने के दौरान इससे मदद भी मिलेगी.

5. आप घर में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं, इसलिये यह संभव है कि आपको घर के शोर से डिस्‍टर्बेंस हो. इसलिये पढ़ाई के लिये हमेशा ऐसा वक्‍त चुनें, जब बाकी लोग सो रहे हों या घर में शांति हो. अपने लिये एक कमरा तय कर लें और हर दिन पढ़ते हुए यह सुनिश्‍च‍ित कर लें कि आपको कोई डिस्‍टर्ब ना करे.

6. ऑनलाइन पढ़ाई आप कभी भी कर सकते हैं लेकिन इसके लिये अनुशासन की आवश्‍यकता है. इसे आप अपनी जॉब की तरह समझें. इसे लेकर गंभीर और अनुशासित रहें. जिस पढ़ाई करें, सिर्फ पढ़ाई ही करें.

7. NEET का ज्‍यादातर कोर्स NCERT किताब पर आधारित होता है. इसलिये छात्र NCERT के सिलेबस की पूरी तैयारी कर लें. NCERT की किताबों में दिए हर प्रश्‍न का उत्‍तर ऑनलाइन मौजूद है.

नीट परीक्षा की तैयारी (Preparation Of NEET Exam)

नीट की तैयारी आप इस प्रकार करे-

  • इंटरमीडियट की फ़िज़िक्स, केमिस्ट्री, और बॉयोलॉजी की पुस्तकों का गहन अध्ययन करे
  • नीट की तैयारी करने के लिए आपको एक समय सारणी बनानी चाहिए | इस समय सारणी में सभी विषयों को पर्याप्त समय देना चाहिए, आपकी यदि फ़िज़िक्स, केमिस्ट्री, और बॉयोलॉजी में से किसी विषय पर अच्छी पकड़ है, तो उसके अतिरिक्त अन्य विषयों पर अधिक ध्यान देना चाहिए
  • नीट की तैयारी के लिए कोचिंग संस्थान की सहायता अवश्य ले, आप इंटरनेट की सहायता से भी प्रवेश परीक्षा की अच्छी तैयारी कर सकते
  • पुराने प्रश्न पत्र को हल करे, इससे इम्पोर्टेन्ट प्रश्नों के विषय में सही जानकारी प्राप्त हो जाएगी

क्या है NEET परीक्षा चिकित्सा स्नातक के पाठ्यक्रमों-एमबीबीएस (MBBS), बीडीएस (BDS) में प्रवेश प्राप्त करने के लिए छात्रों द्वारा दी जाने वाली प्रवेश परीक्षा को “नीट परीक्षा” के नाम से जाना जाता है, इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद अभ्यर्थी अपनी इच्छा अनुसार संस्थान में प्रवेश प्राप्त कर सकते है | परीक्षा के उपरांत प्राप्त अंको की मेरिट लिस्ट जारी की जाती है, कॉउंसलिंग में संस्थान का आवंटन प्राप्त अंकों के आधार पर ही किया जाता है। नीट परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए अभ्यर्थी को फ़िज़िक्स, केमिस्ट्री, बॉयोलॉजी विषय में इंटरमीडियट पचास प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है | नीट प्रवेश परीक्षा में वैकल्पिक प्रश्नों को पूछा जाता है, इसमें कुल 180 प्रश्न होते है, बॉटनी से 45 प्रश्न, फिजिक्स से 45 प्रश्न, केमिस्ट्री से 45 प्रश्न और जूलॉजी से 45 पूछे जाते है | प्रत्येक सही उत्तर के लिए चार अंक प्रदान किये जाते है, तथा गलत उत्तर देने पर एक अंक काट लिया जाता है | इस परीक्षा की समय अवधि तीन घंटे होती है |

इस परीक्षा की योग्यता की बात करें तो 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट के साथ मिनिमम 50 परसेंट मार्क होना अनिवार्य है। इसके अलावा आवेदक की कम से कम 17 वर्ष की उम्र होना चाहिए।

जान लें कि अगर आपने 12वीं की पढ़ाई ठीक ढंग से की है, खासकर बायोलॉजी, फिजिक्स व केमिस्ट्री में, तो आप इस परीक्षा में बेहतर अंक प्राप्त कर सकते हैं, किंतु ध्यान रखने वाली बात यह है कि यह राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित की जाने वाली एकमात्र मेडिकल परीक्षा है। अतः कंपटीशन बेहद कठोर होता है। अतः मुश्किल तो होगी, किन्तु यह नामुमकिन कतई नहीं है!

परीक्षा के माध्यम की बात करें तो हिंदी और अंग्रेजी में इसके प्रश्न दिए जाते हैं।

अगर आप इस परीक्षा में पास हो जाते हैं तो ऑनलाइन इसकी काउंसलिंग होती है और नेशनल लेवल के अलावा स्टेट लेवल पर भी इसकी काउंसलिंग कंडक्ट की जाती है। इसमें अलग-अलग कैटेगरी के हिसाब से सीटों को आवंटित किया जाता है।

एनटीए की ऑफिशियल वेबसाइट nta.ac.in पर इसकी दूसरी कई जानकारियां आपको मिल जाएंगी। यहां तक कि आप मॉक टेस्ट का पेपर भी यहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं और उस हिसाब से अपनी तैयारी को धार दे सकते हैं।

कॅरियर एक्सपर्ट्स तैयारी के लिए सलाह देते हैं कि आपको काफी पहले से इस पर ध्यान देना होता है, किंतु जिस स्तर का टफ एग्जामिनेशन होता है, उसे देखते हुए आपको अंतिम के तकरीबन 2 महीने बेहद सटीकता से रिवीजन पर बिताना होगा। इसके लिए आपको न केवल स्ट्रेस से बचना होगा, बल्कि बेहतरीन तैयारी के लिए पूरी शेड्यूलिंग करके अलग-अलग सब्जेक्ट पर ध्यान देना होगा।

Follow Us
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button