उत्तराखंड में मास्क पहनने में लापरवाही करने वालों से पुलिस जुर्माना वसूलने के बाद चार मास्क मुफ्त देगी। सीएम तीरथ सिंह रावत ने इसके निर्देश दिए हैं। पुलिस को इसके लिए सीएम राहत कोष से एक करोड़ रुपये की धनराशि दी है। इसके साथ ही अस्पतालों में बुनियादी संसाधनों को बढ़ाने के लिए 10 करोड़ रुपये भी दिए जा रहे हैं। मंगलवार को सीएम ने राहत कोष से कोरोना से जंग के लिए विभिन्न विभागों के लिए 22.82 करोड़ मंजूर किए।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड : हरिद्वार में आज से तीन मई तक लागू हुआ कोविड कर्फ्यू 

राजकीय चिकित्सा महाविद्यालयों के लिए 10 करोड़ रुपये स्वीकृत
मुख्यमंत्री राहत कोष से ही राजकीय चिकित्सा महाविद्यालयों को क्षमता वृद्धि और सुदृढ़ीकरण के लिए 10 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस राशि का उपयोग कर महाविद्यालय कोरोना संक्रमण से मुकाबले के लिए संशाधन जुटा सकते हैं।

चार जिलाधिकारियों को छह करोड़ रुपये दिए
मुख्यमंत्री राहत कोष से ही कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिलाधिकारी बागेश्वर और जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग को दो-दो करोड़ रुपये, जिलाधिकारी चमोली और जिलाधिकारी ऊधमसिंह नगर को एक-एक करोड़ रुपये जारी किए गए।

यह भी पढ़ें : बारात में PPE KIT पहनकर एंबुलेंस ड्राइवर ने किया डांस, भागे बाराती 

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग बेहद जरूरी है। जुर्माना साथ इसका सभी लोगों को कड़ाई से पालन करना होगा। संक्रमण को रेाकने के लिए ही कोविड करफ्यू जैसा कदम उठाया गया है। बेहद जरूरी हो तभी लोग घरों से बाहर निकलें।
सुबोध उनियाल, सरकारी प्रवक्ता 

Follow Us