thhe india rise news taj mahal uttar pradesh


 

टूरिज़्म डे 27 सितंबर को टूरिज़्म डिपार्टमेंट की तरह से विज्ञापन छाप गया उस विज्ञापन का शीर्षक ‘वेलकम टू उत्तरप्रदेश द लैंड ऑफ ट्रंकलिटी एंड एलाटमेंट’ था। वेबसाइट पर इसकी डिटेल्स भी डाली गई थी। इस विज्ञापन की पिक्चर में सभी ऐतिहासिक स्थलों के नाम थे बजाए ताजमहल के। तो क्या देश दुनिया में मशहूर आगरा का ताजमहल उत्तरप्रदेश पर्यटन विभाग (UP Tourism Department) के लिए लिए ज्यादा मायने नहीं रखता ?

 

188 दिन बाद कर पाएंगे ताज का दीदार, Say Cheese.. पर भी रहेंगी सुरक्षा बलों की पैनी नजर 

 

उत्तरप्रदेश पर्यटन विभाग इस महत्वपूर्ण मौके पर ताजमहल का प्रचार बुकलेट में शामिल नहीं किया। इस संबंध में उत्तरप्रदेश सरकार ने कहा कि बुकलेट ने जिन प्रोजेक्ट्स में पर्यटन बढ़ाने की जरूरत है उन्ही की फोटो है।

 

इससे पहले भी गायब किया गया था नाम 

इससे पहले भी 2017 में टूरिज़्म डिपार्टमेंट ने एक बुकलेट पब्लिश की थी। तब भी ताजमहल उस बुकलेट से गायब था। 32 पेज की बुकलेट में हिंदू और सभी बौद्ध धर्म के स्थलों के नाम थे। जबकि ताजमहल का नाम गायब था।

thhe india rise news taj mahal uttar pradesh

 

 

सीएम योगी ने म्यूजियम का नाम बदलने की कही थी बात

सीएम योगी आदित्यनाथ ने ताजमहल के मुगल म्यूजियम का नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी महाराज म्यूजियम रखने की बात कही थी। यह बात अभी तक थमी नहीं थी कि पर्यटन विभाग ने  अपनी ओर से यह काम कर दिया।

Follow Us