संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा 2019(यूपीएससी) का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया है। इसमें कुल 829 अभ्यर्थी सफल रहे। 180 अभ्यर्थी आइएएस और 150 अभ्यर्थी आइपीएस के लिए चयनित हुए हैं।फाइनल रिजल्ट आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in पर जारी किया गया है। उम्मीदवार इस वेबसाइट पर जाकर रिजल्ट देख सकते हैं। प्रदीप सिंह ने यूपीएससी सिविल सेवा (मेन्स) परीक्षा 2019 में टॉप किया है, दूसरे स्थान पर जतिन किशोर और तीसरे स्थान पर प्रतिभा वर्मा रहीं।

किसान के बेटे हैं प्रदीप

टॉपर प्रदीप सोनीपत तेवड़ी गांव के रहने वाले एक साधारण किसान के बेटे हैं। प्रदीप अपनी सफलता का श्रेय पिता की मेहनत और विश्वास को बताते हैं। प्रदीप बताते हैं ये उनका ये चौथा प्रयास था, इससे पहले 2018 के यूपीएससी एग्जाम में उन्होंने 260 रैंक हासिल की थी। प्रदीप से अधिकारी के तौर पर उनकी प्राथमिकता के बारे में पूछे जाने पर कहा कि एक अधिकारी के तौर पर किसान और गरीबों के लिए काम करना उनकी प्राथमिकता है।

 

आईआरएस के पद पर हैं अभी प्रदीप

प्रदीप सिंह फिलहाल इंडियन रेवेन्यू सर्विस के अंतर्गत भारत सरकार के अधीन सेवारत हैं। प्रदीप का कहना है कि वह एक साधारण परिवार से हैं और उनके पिता किसान हैं।प्रदीप की इच्छा है कि वह अपना गृह राज्य हरियाणा का कैडर लेना चाहते हैं।

 

दोस्तों और परिवार का बताया सहयोग

प्रदीप सिंह के परिवार को जैसे ही इस बात पता चला तो पूरा परिवार उत्साह से भर गया और इस सफलता के बाद सभी का मुंह मीठा भी कराया गया। प्रदीप सिंह ने अपनी सफलता पर युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि किसी के दबाव में आकर ये परीक्षा पास नहीं की जा सकती, खुद को मन लगाकर मेहनत करनी होती है। वही उन्होंने देश सेवा के भाव को प्रकट करते हुए अपने परिवार और दोस्तो के सहयोग के लिए भी आभार माना।

 

पीएम मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई

पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि, सिविल सेवा परीक्षा, 2019 को सफलतापूर्वक पास करने वाले सभी युवाओं को बधाई! सार्वजनिक सेवा का एक रोमांचक और संतोषजनक कैरियर आपको इंतजार कर रहा है। मेरी शुभकामनाएं! इसके साथ ही पीएम मोदी उन युवाओं के लिए भी ट्वीट किया जो इस परीक्षा को पास करने से चूक गए। पीएम मोदी ने उन्हें और मेहनत करने की सलाह दी और भविष्य की शुभकामनाएं दीं।

 

पीएम मोदी ने ट्वीट कर रहा कि, उन युवाओं के लिए जिन्हें सिविल सेवा परीक्षा 2019 में वांछित परिणाम नहीं मिला, मैं उन्हें बताना चाहता हूं- जीवन कई अवसरों से भरा है। आप में से हर एक मेहनती और चिंताशील है। आपके भविष्य के सभी प्रयासों के लिए शुभकामनाएं।

 

कुल 829 उम्मीदवारों का चयन

बता दें इस बार कुल 829 उम्मीदवारों का चयन किया गया है। इसमें 304 उम्मीदवार जनरल कैटेगरी से, 78 ईडब्ल्यूएस, 251 ओबीसी, 129 एससी और 67 एसटी कैटेगरी से हैं। आयोग के अनुसार परीक्षार्थियों के मार्क्स 15 दिन बाद जारी किए जाएंगे। यूपीएससी ने 182 उम्मीदवारों को रिजर्व लिस्ट में रखा है, इनमें 91 जनरल, 9 ईडब्ल्यूएस, 71 ओबीसी, 8 एससी, 3 एसटी कैटेगरी के हैं। 11 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनका रिजल्ट होल्ड पर रखा गया है।

 

कोरोना के चलते इंटरव्यू स्थगित हुए थे

यूपीएससी मुख्य परीक्षा में कुल 2304 उम्मीदवार सफल हुए थे। इनके लिए इंटरव्यू की प्रक्रिया 17 फरवरी, 2020 से शुरू हुई थी लेकिन कोरोना लॉकडाउन के चलते मार्च में इंटरव्यू स्थगित कर दिए गए थे। इंटरव्यू 20 जुलाई से 30 जुलाई के बीच आयोजित किए गए।

Follow Us