अच्छा खिलाड़ी-आज के समय में लोग खेलकूद में काफी दिलचस्पी ले रहे है | यदि आपको कोई स्पोर्ट्स पसंद है तो इसके ज़रिए आप अपनी पसंद और शौक़ को अपना प्रो़फेशन बना सकते हैं |खेल अब करियर के नए आयाम विकसित कर रहे है, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आये दिन होने वाले तरह-तरह के मैच और प्रतियोगिताओ के कारण खेल, खिलाड़ी और उससे जुड़ें लोगों के सामने ऊंचाइयों को छूने का अवसर है|आज के समय में खेल अब सिर्फ खेल नहीं रह गया है,अब ये एक ऐसा फील्ड हैं जहां युवा लाखों रु. कमाने के साथ-साथ दुनियाभर में नाम और शोहरत भी कमा रहे है |

दुनिया का हर अच्छा खिलाड़ी चैंपियन बनना चाहता है और भारत खेलों के क्षेत्र में लगातार प्रगति कर रहा है, परंतु भारत में इससे भी बेहतर करने की क्षमता है खेल ना केवल आपके शरीर को तंदुरस्त रखते हैं बल्कि आपके दिमाग़ को भी तेज़ बनाते हैंऔर इसमें सफल हो जाने के बाद आपको सम्मान और पैसा दोनो ही चीज़ें आपकी मेहनत के अनुसार आपको प्राप्त होती है |अगर आप इसमें अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपको अपनी अपनी फिटनेस और सेहत पर ध्यान देना चाहिए|आज हम आपको स्पोर्ट्स से सम्बंधित सभी बेसिक बातें जो स्पोर्ट्स के क्षेत्र में कदम रखने से पहले आपको पता होनी चाहिए।

स्पोर्ट्स

अच्छा खिलाड़ी की ज़रूरी योग्यताएं 

  1. स्पोर्ट्स पर्सन (Sportsperson) को कही भी यात्रा पर जाना पड़ सकता है तो उससे लिए उन्हें mentally prepare रहना चाहिए|
  2. स्पोर्ट पर्सन की कम्युनिकेशन स्किल (Good communication skills) अच्छी होनी चाहिए|
  3. क्रिकेट, हॉकी, फुटबॉल आदि में से अपने पसंद के खेल के प्रति पैशनेट (Passionate) होना ज़रूरी है|
  4. खेल के प्रति ईमानदार व उत्सुक होना चाहिए|
  5. जिस खेल में आपको रूचि हो उस खेल से संबंधित रूल्स, रेग्युलेशन और क़ानून की पूरी जानकारी होनी ज़रूरी है.
  6. लीडरशिप या कैप्टनशिप क्वालिटी (Quality) होनी चाहिए|
  7. शारीरिक (Physically fit) रूप से पूरी तरह स्वस्थ होना भी ज़रूरी है|
  • आखिर फिटनेस पहले नंबर पर क्यों मालूम है । क्योंकि किसी भी गेम के लिए आपकी फिटनेस उतनी ही जरूरी है जितना आपका टैलेंट क्योंकि आपके अंदर टैलेंट तो होगा पर अगर आप फिट नही हो तो क्या आपका टैलेंट किसी काम का होगा नही । मान लो कि आप बहुत अच्छे बलेबाज हो पर आप ये सोचते हो कि मेरा गेम अच्छा है मैं क्यों फिटनेस करु । तो आप गलत हो फिटनेस सिर्फ एक स्पोर्ट्स मैन के लिए ही नही बल्कि हर किसी के लिए जरूरी है । एक एक इंसान के लिए ।

टैलेंट 

  • अब बात आती है टैलेंट की क्या आपको लगता है कि टैलेंट होना भी जरूरी है । आप को कुछ भी लगे पर टैलेंट होना भी बहुत जरूरी है । तो किसी भी काम को करने से पहले अपने टैलेंट को पहचाने की किस फील्ड में तुम अच्छे हो चाहे कुछ टाइम ले लो पर फैसला सही से ही लेंना चाहिए क्योंकि ये आपके फ़्यूचर का सवाल है ।

यह भी पढ़ें : बनना चाहते हैं बैडमिंटन प्लेयर, जानें ये कुछ जरूरी टिप्स 

सयम (धैर्य) 
अगर आप किसी भी  स्पोर्ट्स को चुनते हो तो आपको धैर्य रखना पड़ेगा क्योंकि अगर आप ये सोचेते हो कि आपको सफलता सिर्फ 4 या 5 महीने में मिल जाएगी तो आप गलत है यहा पर लाखों लगे पड़े है और वो भी अभी wait ही कर रहे है ।तो आपको सयम रखना पड़ेगा और मेहनत करनी पड़ेगी ।
फैमेली सपोर्ट 

  • तो आखिरी चीज़ है जो बहुत मायने रखती है वो है आपके परिवार वालों का सपोर्ट क्यूकी इसके बिना आप कुछ नही कर सकते । क्या आप जानते हो कि अगर आप कुछ कर रहे हो तो आपको अपने साथ साथ परिवार वालो को भी बताना पड़ेगा कि यहा पर टाइम लगता है । आप इतनी जल्दी कोई भी चीज़ हासिल नही कर सकते ।

प्रमुख स्पोर्ट्स कोचिंग संस्थान

देश में विभिन्न खेलों की एकेडमीज हैं जो खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने का काम करते है| यदि आप खेल में करियर बनाना चाहते हैं तो किसी भी एकेडमीज में एडमिशन लेकर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते है | ये निम्न प्रकार है-

  1. स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया Sports Authority of India
  2. गवर्नमेंट स्पोर्ट्स कॉलेजेसGovernment Sports Colleges
  3. नेशनल स्कूल ऑफ क्रिकेटNational school of cricket
  4. नेशनल क्रिकेट एकेडमी National cricket academy
  5. क्रिकेट इंडिया एकेडमीCricket India Academy

खेल के क्षेत्र में करियर के कुछ ऑप्शन

स्पोर्ट्स का क्षेत्र बहुत बड़ा है,जिससे करियर बना के आप ऊंचाइयों को छू सकते है-

स्पोर्ट पत्रकारिता में करियर

आजकल टीवी में खेल समाचार को अलग से दिखाया जाता है और प्रतियोगी परीक्षा में इससे सम्बंधित प्रश्न जरूर पूछे जाते है, इसलिए खेल से सम्बंधित सभी गतिविधियों से अपडेट होना अनिवार्य हो गया है, यदि आप खेल की जानकारी रखते हैं तो आप आसानी से इसकी रिपोर्टिंग कर पाएंगे और एक आप एक खेल पत्रकार के रूप में करियर बना सकते हैं |

स्पोर्ट्स मैनेंजमेंट

आज के समय में बहुत बड़े- बड़े खेलो का आयोजन किया जाता है, जिसको सही से संचालित करनें के लिए एक मैनेंजमेंट टीम की आवश्यकता होती है, आप इस क्षेत्र में एक मैनेंजमेंट टीम का हिस्सा बन कर अपना करियर बना सकते है | स्पोर्ट्स मैनेंजमेंट में विज्ञापन, बाजार, दर्शक, सुरक्षा आदि शामिल होती है |

स्पोर्ट्स मार्केटिंग

प्रत्येक खेल प्रतियोगिता की सफलता उसके दर्शको पर होती है, मार्केट में खेल को लोकप्रिय बनाना ही स्पोर्ट्स मार्केटिंग कहलाता है, इस कला को समझना आसान नहीं होता है, खेलों की मार्केटिंग करके आप पैसा व पद दोनों को प्राप्त कर सकते है |

किसी खिलाड़ी का विज्ञापन में कैसे प्रयोग करना है, जिससे कम्पनी की सेल में बढ़ोत्तरी हो, खिलाड़ी को आइकन कैसे बनाना है, उसकी ब्रांडिंग कैसे करनी है, इस तरह के कार्य स्पोर्ट्स एजेंट द्वारा किये जाते है |

स्पोर्ट्स  डाइटीशियन

प्रत्येक खिलाड़ी पर उसके खान- पान का विशेष प्रभाव पड़ता है, खिलाड़ी का प्रदर्शन खान- पान पर ही निर्भर करता है, किसी भी चीज की कमी या अधिकता उनके स्टेमिना को प्रभावित कर सकती है, अत: स्पोर्ट्स  डाइटीशियन के रूप में कार्य करके आप अपना करियर बना सकते है |

फिटनेंस एक्सपर्ट

स्पोर्ट्स मैन किसी एथलीट से कम नहीं होते है, वह हमेंशा शरीर से फिट रहते है, जिसका लाभ वह किसी फिटनेंस सेंटर या हेल्थ क्लब में फिटनेंस एक्सपर्ट के रूप में बन कर प्राप्त कर सकते है | सभी लोग शारीरिक रूप से फिट रहना चाहते है, इसलिए फिटनेंस एक्सपर्ट के क्षेत्र में अत्यधिक संभावनाए बनी हुई और भारत सरकार भी इस पर विशेष ध्यान दे रही और संयुक्त राष्ट्र ने इसके लिए योग दिवस का आयोजन करता है, योग दिवस भारत सहित विभिन्न देशो में 21 जून को मनाया जाता हैं, इसलिए इस क्षेत्र में आप फिटनेंस एक्सपर्ट के रूप अच्छा करियर बना सकते है |

यह भी पढ़ें : इंडियन आर्मी में जाने का है सपना, ऐसे करें अपने सपने को पूरा  

साइकोलॉजिस्ट के रूप में करियर

प्रत्येक खेल में हार और जीत होती है, जिसका प्रभाव खिलाड़ी के स्वास्थ्य पर बहुत पड़ता है, किसी भी हार के बाद खिलाड़ी को प्रोत्साहित करनें और उसको मानसिक रूप से मजबूत करनें के लिए एक साइकोलॉजिस्ट की जरुरत पड़ती है, अत: आप एक साइकोलॉजिस्ट के रूप में अपना करियर बना सकते है |

खेल अध्यापक

भारत सरकार खेल को बढ़ावा देनें के लिए सभी विद्यालयों में खेल अध्यापक की नियुक्ति करती हैं, आप स्नातक के पश्चात बीपीएड  करनें के उपरांत आप किसी विद्यालय में खेल टीचर के रूप नियुक्त हो सकते है, इन दिनों अच्छे स्पोर्ट्स टीचर की खूब डिमांड हो रही है, स्पोर्ट्स में रूचि रखें वालों के लिए स्पोर्ट्स टीचर एक अच्छा करियर आप्शन साबित हो सकता है |

कमेंटेटर बनकर करियर बनाये

खेल के समय होनें वाली कामेंन्टेटरी को आप नें अवश्य सुना होगा, यदि आप को खेल की अच्छी समझ हैं और आप लम्बे समय तक बिना रुके बोल सकते हैं, तो आपके लिए यह अच्छा पद है, इसमें आपको खेल को और रोचक तरीके से पेश करना होता है, जिससे खेल देख रहे दर्शको को मनोरंजन के साथ खेल की अहम् जानकारी भी मिल सके, आप क्रिकेट के आलावा अन्य खेलो में कामेंन्टेटरी कर के अच्छा धन प्राप्त कर सकते हैं |

Follow Us