the india rise tech news

कोरोना के चलते कई चीजों पर पाबंदी लगी थी, लेकिन अब अनलॉक-4 के लगते ही स्कूल, सिनेमा बाजार लगभग सभी जरूरत की चीजें खुल गईं हैं। कोरोना के कारण कई हद तक काम डिजिटल हो गए हैं। अब मनोरंजन के साथ-साथ स्वास्थ्य, शिक्षा, उद्योग कई कामों ने अपनी जगह ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर बना ली है। अमेरिका के आर्थिक डेटा प्रोवाइड कंपनी डोमो के मुताबिक अप्रैल 2020 के जुटाए गए आंकड़ों के अनुसार 4.57 अरब यानी दुनिया की 59 फीसदी आबादी इंटरनेट तो पहुंच चुकी है।

the india rise tech news

यह भी जानें  

10 लाख डॉलर ऑनलाइन खर्च किए, यूजर्स ने प्रति मिनट 13,88889 वीडियो / वॉइस कॉल किए (प्रति मिनट) 69444 बार जॉब्स के लिए लिंकडिन अप्लाई किया गया। 2704 बार टिकटॉक इंस्टॉल किया गया (जो भारत में अब बैन हो चुका है)

सोर्स के मुताबिक अप्रैल में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का प्रति मिनट इस्तेमाल

जूम   (ZOOM) 208333 मीटिंग के लिए जुड़े विश्व में प्रति मिनट
नेटफ्लिक्स  (Netflix) 404444 घंटे देखीं गईं वीडियो
यूट्यूब  (YouTube) 500 घंटे के वीडियो अपलोड किए गए
इंस्टाग्राम (instagram) 347222 स्टोर पोस्ट की गईं
ट्विटर  (Twitter) 319 नए यूजर जुड़े 
फेसबुक  (Facebook)   1.50 लाख संदेश पोस्ट किए गए। 1.47 फोटो अपलोड लिए गए
व्हाट्सएप   (WhatsApp) 41.66 करोड़ मैसेज शेयर किए गए
वेनमो  (venmo) 239,196 डॉलर का लेनदेन हुआ
माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft)  52083 यूजर्स से संपर्क किया
स्पॉटीफाई   (Spotify)  28 म्यूजिक ट्रैकर लाइब्रेरी में जोड़े 
Follow Us