Rajasthan : स्टेट वाइल्ड लाइफ बोर्ड की 11वीं बैठक, वनरक्षकों की भर्ती पर हुई चर्चा 

Please log in or register to like posts.
News

rajasthan cm ashok gehlot meeting the india rise news


 

प्रदेश के बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर राजस्थान सीएम अशोक गहलोत ने वनरक्षकों  (Recruitment of Forest guards) की भर्ती में स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता देने की बात कही है इसमें कुछ जरूरी नियमों में बदलाव भी होंगे। वनरक्षकों की भर्ती में स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता मिलने से टाइगर रिज़र्व और अभयारण्यों के आसपास गांव के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर खुल जाएंगे।

 

 

सीएम अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई स्टेट वाइल्ड लाइफ बोर्ड की 11वीं बैठक में कई फैसले लिए गए हैं। इस बैठक में सीएम ने कहा कि टाइगर रिज़र्व से आने वाले पर्यटकों से ली जाने वाली इको डवलपमेंट सरचार्ज राशि को इस रिज़र्व और आसपास के गांव के विकास पर खर्च करने की मांग का परीक्षण करके उचित रास्ता निकालने की निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्टेट वाइल्ड लाइफ बोर्ड की बैठक वर्ष में कम से कम दो बार की जाए जिससे सदस्यों और विशेषज्ञों के सुझाव के आधार पर वनों के विकास एवं जीव के संरक्षण के लिए उचित कदम उठाए जा सकें।

 

सीएम गहलोत ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट, 1972 लागू किया था और इसके बाद अप्रैल 1973 में प्रोजेक्ट टाइगर की शुरूआत से बाघ संरक्षण का काम शुरू हुआ। गांधी की वन्य जीव संरक्षण के प्रति सोच से देश में कई टाइगर रिजर्व एवं अभयारण्य बने। उन्होंने तीनों बाघ परियोजनाओं के प्रबंधन एवं मॉनिटरिंग व्यवस्था को बेहतर बनाने पर जोर दिया और कहा कि आमजन भी बाघों के संरक्षण को लेकर जागरूक है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने सौंखलिया (अजमेर) में कृत्रिम प्रजनन के माध्यम से राजस्थान में पहली बार खरमोर के चूजे पैदा होने पर वन विभाग के अधिकारियों को बधाई दी और विलुप्त होती जा रही प्रजातियों के कृत्रिम प्रजनन को बढ़ावा देने के निर्देश दिए।

 

सीएम ने सांभर लेक सहित प्रदेश के वन क्षेत्रों में तेजी से फैल रहे जूलीफ्लोरा के प्रभावी उन्मूलन पर जोर दिया सीएम ने पिछले साल सांभर झील में प्रवासी पक्षियों की मृत्यु पर चिंता जताते हुए ऑथोरिटी को योजनाबद्ध कदम उठाने को कहा।

 

बोर्ड की बैठक में मुख्य सचिव राजीव स्वरूप, मुख्य सचिव वित्त निरंजन आर्या, अति. मुख्य सचिव टीएडी राजेश्वर सिंह, प्रमुख सचिव वन एवं पर्यावरण श्रेया गुहा, प्रमुख सचिव कृषि कुंजीलाल मीणा सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Follow Us

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Reactions

Nobody liked ?