द इंडिया राइज
कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन जारी है। इस दौरान भारतीय रेलवे भी बंद है। ऐसे में यात्रियों के मन में कई सवाल हैं कि लॉकडाउन के बाद वे ट्रेन में पहले की तरह सफर कर पाएंगे या नहीं। 15 अप्रैल से लॉकडाउन खत्म होने की उम्मीद में यात्रियों ने अपने घर जाने के लिए रेलगाड़ियों में टिकट बुक कर रखी हैं। हालांकि संक्रमितों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर लॉकडाउन आगे बढ़ने की संभावना है।

ऐसे में भारतीय रेलवे यात्रियों द्वारा बुक किए गए टिकट के मुद्दे का समाधान करने पर विचार कर रहा है। टाइम्स ऑफ इंडिया ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि जब तक ट्रेनों को फिर से शुरू करने पर सरकार की ओर से कोई स्पष्टता नहीं होती है, तब तक टिकट बुक कराने का काम निलंबित रखा जाना चाहिए। लॉकडाउन को बढ़ाने और सभी सेवाओं को शुरू करने की अनुमति के बारे में फैसले की जल्द ही घोषणा की जाएगी। हालांकि यात्री ट्रेनों के चलाने के बारे में शायद ही कोई संकेत हैं।

रेल मंत्रालय ने साफ की तस्वीर
रेल मंत्रालय ने यह स्पष्ट किया है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद यात्रा के लिए अब तक कोई प्रोटोकॉल जारी नहीं किया गया है। मंत्रालय ने कहा है कि इस संबंध में निर्णय लेना अभी बाकी है। इस मामले में जब कोई फैसला लिया जाएगा, तब संबंधित पक्षों को इसके बारे में जानकारी दी जाएगी।

देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे हैं लोग
मालूम हो कि देशभर में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सभी यात्री ट्रेनों को बंद कर दिया है। केवल मालगाड़ियां ही चलाई जा रही हैं। ऐसे में काफी लोग देश के अलग-अलग हिस्सों में फंस गए हैं और अपने घर पहुंचना चाहते हैं, लेकिन अभी इसका कोई साधन नहीं है। इसलिए लाखों लोगों को ट्रेनों के चलने का इंतजार हैं। रेल मंत्रालय ने अभी ये निर्णय नहीं लिया है कि यात्री ट्रेन चलेंगी या नहीं।

Follow Us