दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत चल रही है हालांकि बाकी राज्यों में भी ऑक्सीजन की कमी देखने को साफ मिल रही है लेकिन दिल्ली में सबसे ज्यादा किल्लत बताई जा रही है आपको बता दें कि इसी किल्लत के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की ( Prime Minister’s meeting ) , बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद रहे उन्होंने नरेंद्र मोदी से दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने का आग्रह किया है आपकी जानकारी के लिए बता दें कि केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि देश के सभी ऑक्सीजन प्लांट को तुरंत आर्मी के जरिए केंद्र सरकार अपने कब्जे में ले, ताकि कोई भी ऑक्सीजन की गाड़ी को आने से रोक ना सके.

Prime Minister's meeting

यह भी पढ़ें : समीक्षा बैठक में सीएम योगी का निर्देश, छापामारी कर जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी रोकें 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि ऑक्सीजन प्लांट से निकलने वाले हर ट्रक के साथ आर्मी का एक स्क्वाड व्हीकल होना चाहिए अगर ऐसा होगा तो कोई भी नहीं रोकेगा. इतना ही नहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा ” मेरा फोन बस्ता रहता है सर” कभी कोई अस्पताल कहता है कि 3 घंटे की ऑक्सीजन बची है कभी कोई अस्पताल कहता है कि 2 घंटे की ऑक्सीजन बची है.

यह भी पढ़ें : समीक्षा बैठक में सीएम योगी का निर्देश, छापामारी कर जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी रोकें 

हम कारण जानने की कोशिश करते हैं तो पता चलता है कि पीछे किसी राज्य ने दिल्ली के लिए ऑक्सीजन लाने वाले ट्रक को रोक रखा है हमने मदद के लिए केंद्र सरकार से कुछ मंत्रियों को फोन किया, शुरू में उन्होंने खूब सहयोग किया सर लेकिन अब वह बेचारे थक गए हैं सर देश के संसाधनों पर 130 करोड़ लोगों का अधिकार है ना अगर दिल्ली में ऑक्सीजन की फैक्ट्री नहीं है तो क्या दिल्ली के दो करोड़ लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी.

Follow Us