म्यूजिक सुनना कोई आम बात नहीं है क्या आपको पता है कि म्यूजिक सुनने से कितनी बीमारियों को आप पछाड़ सकते हैं अगर नहीं तो पूरे ब्लॉग को पढ़े

म्यूजिक आपके पूरे मस्तिष्क को कंट्रोल कर सकता है एक्सपर्ट्स ने म्यूजिक को एक अहम स्थान दिया है. यहां तक कि बीमारियों को भगाने में जब म्यूजिक के इतने अच्छे रिजल्ट आए तो एक्सपर्ट्स ने म्यूजिक की थेरेपी शुरू कर दी.

एक अच्छा संगीत ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक, दिल से जुड़ी बीमारी, अल्जाइमर, सिर दर्द माइग्रेन जैसी बड़ी बीमारियों को भगाने में मददगार है.

कितने प्रकार की होती हैं म्यूजिक थेरेपी
म्यूजिक को हमारे देश मे ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में इसके सकारात्मक प्रभाव को देखा गया है. जिस तरह अलग-  अलग म्यूजिक होता है वैसे ही अलग – अलग इसके फायदे भी होते हैं म्यूजिक थेरेपी से कहां इलाज किया और कितने लोग इससे सही हुए हैं ऐसा कोई आंकड़ा नहीं आया है पर आपको बता दें कि म्यूजिक थेरेपी होती क्या है..

गाइडेड मेडिटेशन थेरेपी –
इस म्यूजिक थेरेपी में मंत्र शामिल किए जाते हैं.  इस म्यूजिक थेरेपी को करने से तनाव, घबराहट, सिरदर्द, ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों को कम किया जा सकता है.

न्यूरोलॉजिक म्यूजिक थेरेपी –
2017 की रिपोर्ट को माने तो म्यूजिक सिर दर्द दूर करने में काफी असरदार साबित हुआ है. यह दिमाग की चोटों, माइग्रेन जैसी बीमारियों को भगाने  में कारगर साबित हुआ है.

बोनी मेथड म्यूजिक थेरेपी –
हेलन एल बोनी के नाम पर इस थेरेपी के नाम को रखा गए है एक रिपोर्ट में माना गया है, कि ये फिजियोलॉजिकल और साइकोलॉजिकल हेल्थ को सुधाने में लाभदायक है.

नॉर्डऑफ-रॉबिंस-
एकाग्रता को बनाए रखने मानसिक संतुलन को विकसित करने, मनोभ्रंम को कम करने में प्रयोग किया जाता है. इसे 2 साल लगातार करने से बड़ी बीमारियां दूर हो जातीं हैं

Follow Us